JharkhandSahibganj

साहेबगंज में भारी बारिश से हालात भयावह, #NDRF की टीम भेजे सरकार : प्रकाश विप्लव

Ranchi : पिछले पांच दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण झारखंड में भी स्थिति गंभीर हो गयी है. संताल परगना, कोयलांचल और पलामू प्रमंडल समेत गुमला व कोल्हान के इलाके भारी बारिश से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. साहेबगंज, पाकुड़, जामताड़ा, देवघर व दुमका जिले में सैकड़ों कच्चे घर ढह गये हैं. साहेबगंज जिला के राजमहल, उद्धवा, पतना बरहरवा प्रखंड का बड़ा हिस्सा बाढ के पानी में डूबा हुआ है.

Jharkhand Rai

उक्त बातें सीपीआईएम के राज्य सचिव मंडल सदस्य प्रकाश विप्लव ने कही. उन्होंने कहा कि राज्य की स्थिति भयावह है और राज्य सरकार इस पर ध्यान नहीं दे रही. पाकुड़ जिले का महेशपुर और पकुडिया प्रखंड में कई पुल-पलिया के बह जाने से यहां के दर्जनों पंचायतों का संपर्क प्रखंड मुख्यालय से टूट गया है.

संताल परगना होकर बहने वाली गंगा, मयुराक्षी, अजय व बांसलोई नदी उफान पर है. कई डैमों के गेट खोले जाने के कारण वहां नीचे के क्षेत्रों में पानी बढता जा रहा है और गांव के लोग वहां से पलायन कर रहे हैं. यहां के अधिकांश गांव टापू बन गये हैं.

इसे भी पढ़ें : पार्षदों ने #CM को ज्ञापन सौंपा, अटल वेंडर मार्केट मेंटेनेंस कार्य में #Mayor, Deputy Mayor पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया

Samford

राष्ट्रपति का कार्यक्रम भी रद्द किया गया, लेकिन सरकार का ध्यान नहीं

प्रकाश ने कहा कि भारी बारिश के कारण ही राष्ट्रपति का गुमला और देवघर का कार्यक्रम रद्द किया गया. मुख्यमंत्री राष्ट्रपति के कार्यक्रम के व्यस्त है. हालांकि राज्य में भारी बारिश से गांवों की स्थिति भी काफी दयनीय हो गयी है. जिस ओर मुख्यमंत्री को ध्यान देना चाहिए. उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि राज्य सरकार सभी उपायुक्तों को तत्काल निर्देश जारी कर प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्य चलाये.

इसे भी पढ़ें : 15 #IAS अधिकारियों का हुआ #Transfer, प्रतीक्षारत एल खियांग्ते बने #ATI महानिदेशक

साहेबगंज में एनडीआरएफ की टीम भेजे सरकार

प्रकाश ने कहा कि आपदा प्रबंधन विभाग को अविलंब एनडीआरएफ की एक बड़ी टीम साहेबगंज जिले के लिए रवाना करनी चाहिए. क्योंकि अभी जिले की जो टीम साहेबगंज में लगायी गयी है उनके पास संसाधनों का अभाव है. बाढ प्रभावित इलाकों में समुचित संख्या में नाव उपलब्ध कराया जाये. सभी पंचायतों में अनाज, बच्चों के लिए दूध का पाउडर, प्लास्टिक सीट, आवश्यक दवाएं व स्वच्छ पीने का पानी उपलब्ध कराया जाये.

इसे भी पढ़ें : आसनसोलः #DVC ने एक लाख क्यूसेक पानी छोड़ा, बाढ़ की आशंका से निचले इलाकों के लोग आशंकित

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: