Sports

DSO से हॉकी संघ के सचिव ने की Day Boarding सेंटर के कोच शैलेन्द्र की शिकायत, कहा- करते हैं सरकारी नियमों का उल्लंघन

Ranchi : हॉकी संघ, गढ़वा के सचिव संजय प्रताप देव ने जिला खेल पदाधिकारी के पास डे बोर्डिंग सेंटर के कोच शैलेंद्र पाठक के खिलाफ शिकायत की है. बुधवार को उन्हें दिये आवेदन में कहा है कि कुश्ती के कोच मनमाना रवैया अपनाते हैं. गढ़वा में कुश्ती का डे बोर्डिंग सेंटर रामा साहू स्कूल के परिसर में स्थित इंडोर स्टेडियम में संचालित होता है. श्री पाठक के जिम्मे ही कोचिंग का दायित्व है. वे कुश्ती प्रशिक्षक के अलावे गढ़वा जिला ओलंपिक संघ, बेल्ट रेसलिंग, ग्रप्पलिंग कुश्ती, साइकिल संघ समेत विभिन्न खेल संघों में जिला और राज्य संघ के विभिन्न पदों की जिम्मेवारी का भी निर्वहन करते हैं. वर्तमान में वे साइक्लिंग संघ की बैठक में राज्य स्तरीय पदाधिकारी की हैसियत से शामिल होने को दिल्ली गये हैं. ऐसे में डे बोर्डिंग सेंटर का संचालन प्रभावित हुआ. नियमानुसार वे अवकाश लेकर कई बैठकों या आयोजनों में शामिल होते हैं. इसकी जांच हो.

इसे भी पढ़ें – सदर एसडीओ ने रातू के कई बीज दुकानों पर की छापामारी

advt

अवकाश की अवधि का भी मानदेय

संजय प्रताप देव के मुताबिक शैलेंद्र पाठक अगर अवकाश भी लेते हैं तो अवकाश अवधि के माह का मानदेय का भुगतान उन्हें किस प्रकार होता है, इसे देखना चाहिए. किसी प्रशिक्षक के लिए सालभर में तय अवकाश और एक साथ एक से अधिक खेलों में जवाबदेही किस आधार पर उठा रहा, इसकी भी जांच हो. शैलेंद्र पाठक को बेल्ट रेसलिंग संघ को चलाने के लिए कार्यालय आवंटित किया गया है. यह किस नियम और शर्तों के तहत स्थाई रूप से आवंटित किया गया है, उसकी वास्तविकता को परखना चाहिए. जिले के कई अन्य खेल संघ हैं जिन्हें कार्यालय संचालन के लिए जिला प्रशासन के स्तर से अभी तक सहयोग नहीं मिला है. ऐसे में उनमें ऐसे भेदभाव को लेकर नाराजगी भी है.

डे बोर्डिंग के खिलाड़ियों ने 3 अक्टूबर को गढ़वा में हुई जिला स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता में भाग नहीं लिया. ऐसे में कुश्ती के डे बोर्डिंग सेंटर के संचालन के औचित्य पर सवाल उठ रहा है. सेंटर के खिलाड़ी कार्तिक कुमार को पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर की ओर से कुश्ती के खिलाड़ियों के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में सम्मानित किया गया. पर उस खिलाड़ी ने जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भाग नहीं लिया. अब वह ग्रप्पलिंग कुश्ती में भाग लेने दिल्ली गया है. यह किसके आदेश से हुआ, जांच हो.

इसे भी पढ़ें – बाइकर्स को मोरहाबादी में स्टंट करना पड़ा महंगा, वसूले 41 हजार

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: