JharkhandLead NewsRanchi

जिस समाहरणालय पर है कोरोना गाइडलाइंस का पालन कराने की जिम्मेदारी, वहीं लोग नहीं पहन रहे मास्क

Ranchi: राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर कोरोना गाइडलाइंस का पालन करवाने के लिए डीसी रवि रंजन लगातार प्रयास कर रहे हैं. कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करने पर शहरवासियों को धड़ल्ले से चालान काटे जा रहे हैं लेकिन न्यूजविंग की पड़ताल में देखा गया कि जिस दफ्तर पर कोरोना गाइडलाइंस का पालन करवाने की जिम्मेदारी होती है, वहां पर कोरोना गाइडलाइंस का पालन करने के लिए कोई भी तैयार नहीं है.

हम बात कर रहे हैं समाहरणालय की, जिसके ब्लॉक बी में प्रवेश द्वार पर ना तो थर्मल स्कैनर की व्यवस्था थी और ना ही लोग मास्क पहने हुए दिखे. उस द्वार से दिन भर में हजारों की संख्या में लोग आना जाना करते हैं.

न्यूजविंग ने जब पड़ताल की तो भू-राजस्व विभाग में बहुत से ऐसे कर्मी दिखे जो बिना मास्क और कोरोना गाइडलाइंस का बिना पालन करते हुए काम कर रहे थे.

डीसी छवि रंजन ने कहा कि जो भी कर्मचारी बिना मास्क पहने हुए या कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करते हुए पाए जाएंगे उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. हालांकि उन्होंने कहा कि सभी कर्मचारियों और अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि मास्क पहन कर और कोरोना गाइडलाइंस को फॉलो करते हुए ही काम करें.

इसे भी पढ़ें:सुबह से छाये रहे बादल, पलामू, गढ़वा व लातेहार के लिए चेतावनी जारी

पिछले दो दिनों में तीन लाख से अधिक रुपये का कटा चालान

18 मार्च को मास्क चेकिंग अभियान के तहत दो लाख से अधिक रुपये का चालान (415 लोगों का) काटा गया था. सबसे अधिक लालपुर ट्रैफिक पुलिस थाना क्षेत्र में 174 लोगों का चालान काटा गया है, तो सबसे कम जग्गनाथपुर ट्रैफिक थाना क्षेत्र में 65 लोगों का चालान काटा गया है.

गोंदा ट्रैफिक थाना में 69 एवं कोतवाली ट्रैफिक थाना क्षेत्र में 107 लोगों का चालान काटा जा चुका है. पुलिस ने दो लाख सात हजार पांच सौ रुपए का चालान काटा था.

19 मार्च को मास्क चेकिंग अभियान में 344 लोगों का चालान काटा गया और एक लाख बहत्तर हज़ार रुपये का जुर्माना किया गया था. सबसे अधिक लालपुर थाना क्षेत्र में 154 लोगों का चालान काटा गया तो सबसे कम जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र में 38 लोगों का चालान काटा गया था. कोतवाली थाना क्षेत्र में 87 एवं गोंदा थाना क्षेत्र में 61 लोगों का चालान काटा गया था.

इसे भी पढ़ें: 13 रुपये 69 पैसे प्रतिदिन का बेरोजगारी भत्ता दे सरकार ने बेरोजगारों के साथ किया भद्दा मजाकः आशा लकड़ा

Advt

Related Articles

Back to top button