JharkhandLead NewsRanchi

सरकार और ग्रामीण विकास कार्यों से जुड़े संविदा कर्मियों के हठ के बीच पीस रही है जनता

पिछले सात दिनों से 14 वें वित्त कर्मी संघ का धरना जारी, बिरसा चौक रह रहा जाम

Ranchi : सरकार और ग्रामीण विकास कार्यों से जुड़े संविदा कर्मियों के हठ से आमलोगों को बिरसा चौक से गुजरना आफत बन चुका है. पिछले सात दिनों से बिरसा चौक में रास्ता बंद है लेकिन अभी तक सरकार या जिला प्रशासन कि ओर से कोई सकारात्मक कार्रवाई नहीं की गयी.

14 वें वित्त कर्मी संघ के द्वारा लगातार धरना जारी जारी है. इस वजह से बिरसा चौक स्थित एचईसी गेट बंद कर दिया गया है. इससे सबसे अधिक परेशानी आम लोगों को हो रही है. हर दिन गेट बंद होने से लोगों को 7 से 10 किलोमीटर अधिक फासला तय करना पड़ रहा है.

इसे भी पढ़ें : चान्हो डबल मर्डर केस: प्रेम-प्रसंग या जमीन विवाद हो सकती है वारदात की वजह

Catalyst IAS
ram janam hospital

मंत्री आलमगीर आलम से वार्ता का नहीं निकला परिणाम

The Royal’s
Sanjeevani

गुरुवार को संविदा कर्मियों ने ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम से वार्ता की लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला. कर्मियों ने कहा कि जब उनका संविदा का विस्तार किया जा सकता है तो फिर नई बहाली करने का क्या औचित्य है ?

इस पर मंत्री ने स्पष्ट कहा की नयी बहाली में भी वह आवेदन दे सकते हैं जिससे उनको लाभ मिल सकेगा लेकिन कर्मियों ने कहा है कि वह अपने संविदा का विस्तार चाहते हैं ना कि नई बहाली.

मालूम हो कि इससे पहले भी कई मंत्रियों से वार्ता विफल रही है. अभी भी सभी कर्मी आंदोलनरत हैं. आंदोलन कर रहे संविदा कर्मियों ने बताया कि उन्हें झामुमो अध्यक्ष व पूर्व सीएम शिबू सोरेन के सामने भी इस बात को रखा है.

इसके बाद कर्मियों को बताया गया है कि नियम सरकार के मंत्री एवं मुख्यमंत्री बनाते हैं, नियम अलग से नहीं होता एवं उनके द्वारा बोला गया कि इन सभी बातों पर वह मुख्यमंत्री से बातें करेंगे. कर्मी संघ ने जानकारी दी है कि अगर अभी भी कोई सुध नहीं लेता है तो हमारे कुछ प्रतिनिधिमंडल कांग्रेस भवन का घेराव भी करेंगे.

इसे भी पढ़ें : झारखंड की 7 बच्चियों को बाहर ले जा रहे थे ट्रैफिकर, पुलिस ने छुड़ाया

Related Articles

Back to top button