JharkhandLead NewsRanchi

थानेदार बदल गए पर नहीं सुधरे बाल सुधार गृह के हालात, जांच के नाम पर हो रही लीपापोती

Ranchi : समाज की मुख्य धारा से भटके बच्चों को सुधार के लिए बाल सुधार गृह भेजा जाता है लेकिन बदहाल व्यवस्था की वजह से बच्चे सुधरने की जहग और बिगड़ रहे हैं. बाल अपराध की सजा काट रहे बच्चे नशे की चपेट में आ रहे हैं. वो गांजा, चरस जैसे मादक पदार्थों का सेवन कर रहे हैं. डुमरदगा स्थित बाल सुधार गृह में बच्चे को सुधारने की जगह बेरहमी से पीटा जाता है. मामला सामने आने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती, सिर्फ फाइलें उलट-पुलट होते रहती है.

डुमरदगा स्थित बाल सुधार गृह में लगातार मारपीट की खबरें आने के बाद सदर थाना प्रभारी बदल दिए गए लेकिन वहां के हालात नहीं सुधरे.

इसे भी पढ़ें:होटवार जेल में बंद नक्सली नेता प्रशांत बोस को दो दिनों की रिमांड पर लेगी सीआईडी

नए थानेदार भी सुस्त निकले. यहां पर आज मारपीट का सनसनीखेज मामला सामने आया है. बच्चों के परिजन बाल सुधार गृह पहुंचे और आरोपियों पर कार्रवाई की मांग की है. साथ ही बच्चों की सुरक्षा की गुहार लगाई है.

एक महिला ने बताया कि बाल सुधार गृह से बाहर निकले एक बच्चे ने उन्हें बताया कि वे उनके बच्चे के साथ बेरहमी से मारपीट की जाती है.

इसे भी पढ़ें:छात्रों ने शिक्षक के सिर पर रख दिया डस्टबिन, VIDEO वायरल हुआ तो शिक्षा मंत्री ने दिए जांच के आदेश

उसने कहा कि, अपने बच्चेव को बाहर निकाल लीजिए, नहीं तो कभी भी उसके साथ कुछ भी हो सकता है. महिला का आरोप है कि पिटाई कर उसके बच्चेन के पेट में अल्ससर कर दिया गया है.

उसके शौच में खून आ रहा है. बाल सुधार गृह में खुलेआम चरस, गांजा, भांग और शराब का सेवन बच्चे करते हैं. उसके बाद बेकसूर बच्चों को बेरहमी से पिटाई करते हैं.

इसे भी पढ़ें:GOOD NEWS : आप भी ले सकते हैं फ्री में बिजली, जानें कैसे लें सकते हैं सरकार से सब्सिडी

घटना की सूचना मिलने के बाद सदर थानेदार श्याम किशोर महतो समेत कई पुलिसकर्मी पदाधिकारी बाल सुधार पहुंचे और मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है. हालांकि इस मामले को लेकर सदर थाना प्रभारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं और जांच के नाम पर लीपापोती करने का प्रयास कर रहे हैं.

आखिर सवाल यह है कि पुलिस इन अपराधियों को गिरफ्तार क्यों नहीं करती है. आखिर बच्चे को बाल सुधार गृह क्यों भेजा जाता है. सुधारने के लिए या उनके साथ मारपीट करने के लिए.

इसे भी पढ़ें:रेलयात्री ध्यान दें… 12 दिसंबर को जसीडीह से चलने वाली ट्रेनें रद्द रहेंगी

Related Articles

Back to top button