न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पाकिस्‍तान से आया फोन,केबीसी के नाम पर ठग लिए 10 लाख

145

Dhanbad : वह लालच का नशा ही था कि नहीं देखा कि फोन पाकिस्तान से आया है, तो अमिताभ बच्चन के लोकप्रिय कार्यक्रम कौन बनेगा करोड़पति का प्राइज कैसे मिलेगा. एक बार नहीं बार-बार और अभी तक फोन उठानेवाला बंदा मजे में बात कर रहा है. वह पाकिस्तान में है. पुलिस उसका क्या बिगाड़ लेगी. +92 पाकिस्तान का कोड है. इस अंतरराष्ट्रीय कोड वाले नंबर से बात करके मनइटांड की अनीशा चक्रवर्ती 30 लाख पाने के लालच में आकर कॉल की सच्चाई बिना पड़ताल किए 10 लाख रुपये की ठगी का शिकार हो गयीं.

राशि मिलने से पहले टैक्स जमा करने को कहा गया

मामला सितंबर महीने का है जब अनीशा के व्हाटसऐप्प पर एक वीडियो क्लिप भेजा गया. उसमें केबीसी होस्ट करने वाले अमिताभ बच्चन को दिखाया गया है कि वह अनीशा को घर बैठे 30 लाख रुपये जीतने की घोषणा कर रहे हैं. इस फर्जी वीडियो के झांसे में वह आ गयी. इसके बाद इनाम की राशि मिलने से पहले उसे टैक्स जमा करने को कहा गया.

पिता के एकाउंट से पैसे ट्रांसफर किए और जेवर बेच कर दिए रुपये

एक ही झटके में 30 लाख रुपये मिलने की लालच में अनीशा ने सितंंबर और अक्टूबर महीने के दौरान बिना कोई पड़ताल किये अपने पिता के एसबीआइ बैंक के अकाउंट से सिर्फ जालसाजों के कॉल के झांसे में आकर 7.5 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए. हद तो तब हो गई जब पैसे खत्म होने के बाद उसने घर में रखे ढाई लाख के जेवर भी बेचकर पैसे भेज दिए. अनिशा को माता-पिता के अकाउंट और उसके एटीएम की सारी डिटेल मालूम है.

Related Posts

100 रुपये में #IAS बनाता है #UPSC, #Jharkhand में क्लर्क बनाने के लिए वसूले जा रहे एक हजार

झारखंड में बनना है क्लर्क तो आइएएस की परीक्षा से 10 गुणा ज्यादा देनी होगी परीक्षा फीस.

इंटरनेशनल फोन नंंबर से आता था कॉल : हिमांशु शेखर

अनिशा के पिता हिमांशु शेखर के अनुसार ठग इंटरनेशनल फोन नम्बर का प्रयोग करते थे. उनके अनुसार नम्बर के पहले 92 लगाना पड़ता है. ज्ञात हो 92 पाकिस्तान का कोड है. एक ठग जिसका नाम नवाब आलम है वह अब भी कॉल रिसीव कर रहा है. हालांकि नवाब पैसे वापस लौटाने की बात भी बोल रहा है.

11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

ठगी की शिकायत अनिशा के पिता हिमांशु शेखर ने 11 लोगों के खिलाफ धनसार थाना में की है. इसमें मनइटांड के ही अरविंद साइबर कम्युनिकेशन के मालिक के मार्फत दिल्ली के राजीव कुमार को नेट बैंकिग के माध्यम से भुगतान किया गया है. इसके अलावा विवेक कुमार, संत कुमार, राजा बाबू, मंटू कुमार, राहुल कुमार, उज्जवल वर्मा, नवाब आलम , मनोज वर्मा पर पुलिस ने धारा 419,420, 406 के तहत मामला दर्ज किया है.

शनिवार को एफआईआर दर्ज करवायी गयी है. बैंक से सारा स्टेटमेंट लिया जायेगा और कॉल डिटेल निकाल कर सारी जानकारी प्राप्त पर आगे की कार्रवाई की जायेगी, जांच चल रही है.

लक्ष्मण राम, धनसार थानेदार 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: