World

प्रार्थना सभा में शामिल व्यक्ति कोरोना संक्रमित, चर्च के सदस्यों के भी संक्रमित होने का अंदेशा

विज्ञापन

Auroville :  अमेरिका में मदर्स डे के मौके पर एक गिरजाघर में प्रार्थना सभा में शामिल हुआ एक व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है जिसके बाद धार्मिक सभा में मौजूद 180 से अधिक सदस्यों के संक्रमण की चपेट में आने की आशंका बढ़ गई है.

इसे भी पढ़ेंः पलामू: महाराष्ट्र, रायगढ़ से पहुंचे 16 सौ प्रवासी श्रमिक,  पहुंचते ही प्रवासी महिला मजदूर ने दिया बच्चे को जन्म

बुट्टे काउंटी के जन स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि उत्तरी सेक्रामेंटो के काउंटी स्थित इस गिरजाघर ने किसी भी तरह की सभा के आयोजन को प्रतिबंधित करने वाले नियम प्रभावी होने के बावजूद प्रार्थना सभा आयोजित की.

बयान में कहा गया, “जल्दबाजी में संस्थानों को दोबारा खोले जाने की प्रक्रिया काफी नुकसानदेह हो सकती है और इस कारण से हमें अधिक प्रतिबंधात्मक कदम उठाने के लिए मजबूर होना पड़ेगा.”

इसे भी पढ़ेंः आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज की आखिरी किश्त : मनरेगा बजट 40 हजार करोड़ बढ़ा, ऑनलाइन शिक्षा और स्वास्थ्य पर भी जोर

वायरस से संक्रमित ज्यादातर लोगों को तीन हफ्ते तक बुखार और खांसी हो सकती है.

बुजुर्गों एवं अन्य स्वास्थ्य समस्याओं से ग्रसित लोग गंभीर रूप से बीमार पड़ सकते हैं. उन्हें निमोनिया या उनकी मौत तक हो सकती है. ज्यादातर लोग इस बीमारी से ठीक हो जाते हैं.

पढ़ेंः उस रामपुकार पंडित की कहानी, जिसकी तस्वीर पूरे देश के प्रवासी मजदूरों का प्रतीक बन गयी है  

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: