JharkhandRanchi

सीआईडी में चल रहे तीन दिवसीय साइबर जागरूकता कार्यक्रम संपन्न

Ranchi: Ranchi: साइबर अपराध और साइबर कानून को लेकर सीआईडी में आयोजित तीन दिवसीय अवेयरनेस प्रोग्राम संपन्न संपन्न हो गया. 25 मार्च से 27 मार्च तक ऑनलाइन प्रशिक्षण सीआईडी के काफ्रेंस हॉल में चल रहा था. कार्यक्रम में झारखंड राज्य के 48 न्यायाधीश, 13 अभियोजक एवं साइबर अपराध की रोकथाम के लिए प्रभावित जिले जामताड़ा, देवघर, गिरीडीह, रांची, जमशेदपुर, दुमका एवं धनबाद के डीएसपी को प्रशिक्षण दिया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन सीआईडी के एडीजी प्रशांत सिंह ने किया.

कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्तर की व्याख्याताओं को आमंत्रित किया गया था. जिसमें डिप्टी डायरेक्टर इंटरपोल, सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता, निदेशक, एशियन स्कूल आफ साइबर लॉ, एनडी स्कूल ऑफ़ साइबर लॉ आदि के व्याख्याताओं ने भी व्याख्यान दिया. प्रशिक्षण का समापन सीआईडी के एडीजी ने किया. गौरतलब है कि वर्ष 2018 में गृह मंत्रालय ने देश में सीसीपीडब्लूसी योजना की शुरुआत की. जिसका उद्देश्य महिलाओं एवं बच्चों साइबर अपराध से बचाना है.

सीसीपीडब्लूसी योजना की विशेषता

ram janam hospital
Catalyst IAS

आमजनों को सरलता से सूचना देने के दृष्टिकोण से ऑनलाइन साइबर क्राइम रिपोर्टिंग प्लेटफार्म एवं कांडों का आसानी से उद्भेदन के लिए एक राष्ट्रीय स्तर का साइबर फॉरेंसिक प्रयोगशाला बनाया गया है.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

साइबर अपराधियों द्वारा साइबर क्राइम को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल की जाने वाले नए-नए तरीकों एवं कांडों का ट्रायल के तरीकों से संबंधित पुलिस अधिकारी, न्यायाधीशों और अभियोजकों को जानकारी दी गई ताकि साइबर अपराध पर अंकुश लगाने की राह में कोई रुकावट ना हो.

इसे भी पढ़ें: संजय सेठ और बाबूलाल मरांडी ने सरकार से की मांग, सरहुल व रामनवमी शोभायात्रा के लिए अविलंब दें इजाजत

Related Articles

Back to top button