Lead NewsNational

ज्ञानवापी केस में 26 मई को होगी अगली सुनवाई, कोर्ट ने दोनों पक्षों से सर्वे रिपोर्ट पर मांगी आपत्तियां

Varanasi : ज्ञानवापी केस में वाराणसी की जिला अदालत अब 26 मई को अगली सुनवाई करेगी. जिला जज ने साफ कर दिया है कि 26 मई को केस की मेंटेनेबिलिटी यानी 7-11 पर सबसे पहले सुनवाई होगी. कोर्ट ने दोनों पक्षों से ज्ञानवापी की सर्वे रिपोर्ट पर एक हफ्ते में आपत्तियां दाखिल करने को कहा है.
दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने ज्ञानवापी मामले से जुड़ीं सभी याचिकाओं को सेशन कोर्ट से जिला अदालत में ट्रांसफर करने का आदेश दिया था. सोमवार को जिला जज अजय कृष्ण विश्वेशा ने दोनों पक्षों को 45 मिनट तक सुनने के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था.

इसे भी पढ़ें : पलामू : पांच प्रखंडों में तीसरे चरण का मतदान, 1 बजे तक 62.83 प्रतिशत वोटिंग

26 मई को होगी सुनवाई

Catalyst IAS
SIP abacus

वाराणसी जिला जज अजय कुमार विश्वेश ने कहा, नागरिक प्रक्रिया संहिता सीपीसी के आदेश 7 नियम 11 के तहत वाद की पोषणीयता पर सुनवाई होगी. सुनवाई की अगली तारीख 26 मई को तय की गई. मुस्लिम पक्ष से जज ने सर्वे रिपोर्ट पर आपत्ति भी मांगी है.

MDLM
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : पलामू : मेयर अरूणा शंकर ने मेडिकल कॉलेज का किया निरीक्षण, अव्यवस्था देख भड़की

7-11 को पहले सुना जाएगा

वाराणसी जिला जज अजय कृष्ण विश्वेशा ने फैसला सुनाते हुए कहा कि वे इस मामले पर 26 मई को सुनवाई करेंगे. मुस्लिम पक्ष का कहना था कि 7-11 पर मामला सुना जाए. कोर्ट ने कहा कि 7-11 को पहले सुना जाएगा. इसके साथ ही जिला कोर्ट ने 7 दिन के भीतर सेशन कोर्ट के फैसले पर हुए सर्वे की रिपोर्ट पर दोनों पक्षों से आपत्तियां दाखिल करने को कहा है.

कोर्ट में मौजूद सभी पक्षकार और वकील

इससे पहले आज सुनवाई के दौरान वादी प्रतिवादी और उनके वकील भी कोर्ट चेंबर में पहुंचे. जिला जज ने फाइल का अवलोकन किया. विशेष एडवोकेट कमिश्नर विशाल सिंह भी जज के सामने मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें : बेगूसराय में सनकी देवर ने भाभी को चाकुओं से गोदा

Related Articles

Back to top button