Crime NewsJharkhandJharkhand StoryKhas-KhabarLead NewsRanchiTop Story

नक्सली संगठन PLFI खत्म होने की कगार पर,पहले इनामी थे 32 अब बचे इतने ही,पढ़ें रिपोर्ट

Ranchi: झारखंड में पिछले दशक में कुख्यात रहा नक्सली संगठन पीएलएफआई अब सिमटने लगा है. धीरे-धीरे  उग्रवादी संगठन के उग्रवादियों के खिलाफ झारखंड पुलिस और को मिली निर्णायक सफलवता के बाद अब पुलिस बचे उग्रवादी को निशाने पर रखकर आपरेशन चलाने की तैयारी में है.रांची, खुंटी,चाईबासा, सिमडेगा जिले के विभिन्न एरिया में सक्रिय पीएलएफआई उग्रवादी संगठन बीते कुछ वर्षो में सिमटा है. तीन वर्ष पूर्व पीएलएफआई संगठन के करीब 32 इनामी उग्रवादी थे, जो अब सिमटकर मात्र 8 रह गया है. संगठन के अधिकतर उग्रवादी या तो मारे जा चुके हैं,मारे जा रहे है, गिरफ्तार हो रहे हैं या सरेंडर कर रहे है. हालांकि संगठन का शीर्ष उग्रवादी दिनेश गोप अभी भी पुलिस के चंगुल से बाहर है.
इसे भी पढ़े: Jamshedpur court : घाघीडीह जेल में कैदी मनोज सिंह की हत्या मामले में 15 दोषियों को फांसी की सजा, जाने क्या आया फैसला

संगठन में नई भर्ती के लिए चला रहा अभियान
बंदूक के जोर पर नई भर्तियां कर संगठन को मजबूत करने में संगठन जुटा है तो वहीं पुलिस के खिलाफ अभियान में युवाओं को झोंकते हैं. हालांकि बीते कुछ वर्षों में लोगो का संगठन से मोहभंग हुआ है और ग्रामीण भी सरकार के साथ आने लगे हैं. अब पुलिस का पूरा ध्यान संगठन के सुप्रीमो सहित कुछ बचे उग्रवादी पर है. इनलोगों को ध्यान में रखकर रणनीति बनाई जा रही है. जनवरी 2020 से मार्च 2022 तक 4 इनामी सहित एक दर्जन उग्रवादियों को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया. वही करीब दो दर्जन उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया है. जबकि दो उग्रवादियों ने सरेडर किया है. 15 लाख के इनामी रिजनल कमांडर जिदन गुड़िया, पुनीत उरांव जैसे कुख्यात उग्रवादी मुठभेड़ में मारा गया. हाल ही में पीएलएफआई के एरिया कमांडर दो लाख के इनामी संतोष कण्डुलना को चाईबासा पुलिस ने गिरफ्तार किया था.

पीएलआफआई के इनामी उग्रवादी

Sanjeevani

पीएलएफआई: उग्रवादी इनाम की राशि
दिनेश गोप सुप्रीमो : 25 लाख
मार्टिन केरकेट्टा रीजनल कमांडर:  15 लाख
तिलकेश्वर गोप जोनल कमांडर: 10 लाख
आरिफ जी उर्फ शशिकान्त जोनल कमांडर: 10 लाख
बलराम लोहरा उर्फ जटु उर्फ मजनू एरिया कमांडर: 02 लाख
नोवेल सांडी पूर्ति एरिया कमांडर: 02 लाख
सुखराम गुड़िया उर्फ रोड़े उर्फ गदवा: एलजीएस 01 लाख
सामुएल बुढ़ उर्फ सामु एलजीएस: 01 लाख

पीएलएफआई के ये उग्रवादी मारे गये

– रिजनल कमांडर जिदन गुड़िया, 15 लाख
– जोनल कमांडर शनिचर सुरीन, 10 लाख
– एरिया कमांडर मंगरा लुगून, 2 लाख
– एरिया कमांडर पुनिया उरांव, 2 लाख
– पंडित सिंह
– सत्तो बरजो
– बदू नाग उर्फ चंपा
– पंगला बोरदा
– सिमोन केरकेट्टा उर्फ एतवा उर्फ एतनेस केरकेट्टा
– सोनू
(जनवरी 2020 से 31 मार्च 2022 तक)

पीएलएफआई के ये उग्रवादी किया सरेंडर

– एरिया कमांडर संजय गोप
– एरिया कमांडर राजेश मुंडा
(जनवरी 2020 से 31 मार्च 2022 तक)

पीएलएफआई के गिरफ्तार उग्रवादी
– जोनल कमांडर योगेश कुमार यादव
– जोनल कमांडर सचित सिंह
– सब जोनल कमांडर कृष्णा यादव उर्फ सुल्तान
– एरिया कमांडर अजय पुर्ति उर्फ बुद्धा 2 लाख
– एरिया कमांडर सुमैल कुडूलना उर्फ सोमू 2 लाख
– एरिया कमांडर सुजीत कुमार राम उर्फ साहू जी 2 लाख
– एरिया कमांडर दीपक नायक उर्फ बिनोद कुमार
– एरिया कमांडर कुंअर उरांव उर्फ कुंअर गोप
– एरिया कमांडर सुमन सिंह उर्फ सुमन सिंह गंझू
– एरिया कमांडर जॉन टोपनो
– एरिया कमांडर मोदी उर्फ हरि सिंह सांडी पूर्ति उर्फ आकाश सांडी पूर्ति
– एरिया कमांडर बंदना टोपनो
– एरिया कमांडर मो उमर
– एरिया कमांडर राजेश गोप उर्फ राजेश टाईगर
– एरिया कमांडर प्रवीण कंडूलना
– एरिया कमांडर जॉनशन बारला
– एरिया कमांडर मंगू मुंडा
– एरिया कमांडर देव सिंह मुंडा
– एरिया कमांडर लारा टोपनो उर्फ दुलाल टोपनो 1 लाख
– एरिया कमांडर ओझा टोपनो 1 लाख
(जनवरी 2020 से 31 मार्च 2022 तक)

 

Related Articles

Back to top button