न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मॉनसून धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ रहा,  देश के कई हिस्सों में दी दस्तक, किसानों के चेहरे खिले, गर्मी से राहत

देश भर के जलाशयों में भी पानी की कमी देखी जा रही है.  देश  में शुक्रवार को 5.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी. हालांकि सामान्य तौर पर 6.2 मिलीमीटर बारिश होती है,

54

NewDelhi :  मॉनसून धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ रहा  है. जान लें कि शुक्रवार को देश के दक्षिणी, पूर्वी और मध्य भारत में अच्छी खासी बरसात हुई. मौसम विभाग के अनुसार  जून माह का यह  शुक्रवार सबसे अधिक नमी वाला दिन था. तीन सप्ताह देर से ही सही  यह बारिश बड़ी राहत देने वाली है.  इस मॉनसून सीजन में अब तक वर्षा न होने के  कारण फसलों की बुआई में देर हो रही है.

इसके अलावा देश भर के जलाशयों में भी पानी की कमी देखी जा रही है.  देश  में शुक्रवार को 5.2 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गयी. हालांकि सामान्य तौर पर 6.2 मिलीमीटर बारिश होती है, लेकिन एक जून के बाद से  हर दिन करीब 40 से 45 फीसदी कम बारिश हो रही है. आने वाले दिनों में मॉनसून से राहत मिलने की संभावना जताई गयी है.

Trade Friends

इसे भी पढ़ेंःक्या मुजफ्फरपुर में मासूमों के लिए सरकार अस्थायी अस्पताल नहीं बनवा सकती थी?

  21 जून की बारिश औसत वर्षा से 16 फीसदी कम

WH MART 1

मौसम विभाग के अनुसार  21 जून की बारिश औसत वर्षा से 16 फीसदी कम थी. जून के पहले  20 दिनों में बारिश औसत से 54 फीसदी तक कम दर्ज की गयी.  दक्षिण भारत में मॉनसून की यह बारिश औसत से 10 फीसदी अधिक थी, जहां इस सीजन की शुरुआत से ही 38 फीसदी तक कम बारिश देखने को मिली. माना जा रहा है कि अब फसलों की बुआई में तेजी आयेगी, जो बीते साल के मुकाबले अब तक 12.5 फीसदी कम रही है. मौसम विभाग काआने वाले दिनों में दक्षिण, पश्चिम और पूर्वी भारत के अलावा असम और पूर्वोत्तर के राज्यों में भी अच्छी बारिश का अनुमान  है.

मौसम विभाग के आकलन के अनुसार  मॉनूसन कर्नाटक के ज्यादातर हिस्सों में पहुंच चुका है.  इसके अलावा महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश के हर जिले और तमिलनाडु तक में यह पहुंच चुका है.  तेलंगाना और पश्चिम बंगाल में भी मॉनसून पहुंच चुका है. दक्षिण, पश्चिम और पूर्वी भारत के अलावा मध्य भारत के छत्तीसगढ़ में भी मॉनसून ने दस्तक दी है.  पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार और छत्तीसगढ़ को धान की खेती के लिए अग्रणी राज्यों में शुमार किया जाता है.  मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में यहां मॉनसून और भी मेहरबान होगा.

इसे भी पढ़ेंःजिस भगवान बिरसा मुंडा के वंशजों के आवासों के लिए अमित शाह ने किया था भूमि पूजन, वहां एक ईंट भी नहीं जोड़ी जा सकी है

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like