JharkhandSahibganj

सीएम हेमंत के विधायक प्रतिनिधि ने केन्द्रीय एजेंसियों को पोपट कहा, बोला-सारी मेरे पीछे लग जाएं फर्क नहीं पड़ता

Sahibganj: भारतीय जनता पार्टी केंद्र सरकार की जितनी भी पोपट एजेंसियां है उनको पंकज मिश्रा के पीछे लगा दे,  पंकज मिश्रा डरने वाला नहीं है. झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी और उनके एक-एक कार्यकर्ता किसी भी मुसीबत से डर कर भागने वाले नहीं हैं उसका डटकर सामना करेंगे और जवाब देंगे. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा ने आज पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए सदर अस्पताल के निरीक्षण के दौरान ये बातें कही.  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा आज साहिबगंज सदर अस्पताल के निरीक्षण करने पहुंचे .जहां पत्रकारों के सवालों का जवाब उन्होंने दिया ईडी की कार्रवाई के बीच पंकज मिश्रा के अंडरग्राउंड होने की चर्चा बाजारों में जोरों पर थी . जिसको लेकर पंकज मिश्रा ने जवाब देते हुए कहा कि पंकज मिश्रा भगोड़ा नहीं है केंद्र सरकार की कोई भी एजेंसी जब चाहे हमें बुला सकती है और हम हर सवालों का जवाब देने के लिए तैयार हैं. भारतीय जनता पार्टी पंकज मिश्रा पर आरोप लगाती है कि अवैध स्टोन चिप्स बांग्लादेश भेजते हैं जबकि हकीकत यह है कि भारतीय जनता पार्टी के कई पदाधिकारी और कार्यकर्ता जिनके अपने ट्रक और हाईवा है. जिससे वे सभी लोग स्टोन चिप्स बंगाल भेजते हैं .अब वह बताएं कि भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता बांग्लादेश पाकिस्तान या नेपाल भेजा करते हैं .भारतीय जनता पार्टी ने जिस प्रकार से केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग करते हुए देश में गैर भाजपाई सरकार को अस्थिर करने का चक्र चला रखा है इससे देश में गृह युद्ध की स्थिति पैदा हो जाएगी और आने वाले समय में इससे इनकार नहीं किया जा सकता. पंकज मिश्रा कल भी अपने ही विधानसभा क्षेत्र में था आज भी है और आगे भी रहेगा. केंद्र सरकार की जिस एजेंसी को जो भी सवाल करना हो वह जब भी मुझे बुलाएंगे. मैं उनके समक्ष प्रस्तुत होकर उनके सभी सवालों का जवाब दूंगा . लेकिन भारतीय जनता पार्टी से यह निवेदन है कि एक व्यक्ति के पीछे इस प्रकार से पूरे एजेंसी को नहीं लगानी चाहिए. आखिर भाजपा पंकज मिश्रा से इतनी डरी सहमी क्यों है. पंकज मिश्रा भागने वाले नहीं हैं. भारतीय जनता पार्टी चाहे तो देश की एजेंसियां ही नहीं बल्कि विदेश की भी कोई एजेंसी हो तो उन्हें भी मेरे पीछे लगा दें.

इसे भी पढ़ें : मुख्यमंत्री ने आदिवासी लड़की की पिटाई के मामले में लिया संज्ञान,  कार्रवाई का दिया आदेश

Related Articles

Back to top button