ChatraCrime NewsJharkhandLead NewsRamgarh

नर्स के प्रेमी ने किसी और से कर ली शादी, नाराजगी जतायी तो जंगल ले जाकर मार डाला

Chatra: 20 जुलाई को जिले के मयूरहंड थाना क्षेत्र के महेशा नहर से दो सौ मीटर दूर सलैया टांड जाने वाले मोरम पथ के किनारे जंगल में एक अधजली युवती का शव बरामद हुआ था, जिसकी शिनाख्त रामगढ़ जिले के ग्राम बडगांव, थाना घाटो ओपी के फुलचंद महतो की 20 वर्षीया पुत्री संगीता कुशवाहा के रूप हुई है.

घटना के संबंध में पुलिस उपाधीक्षक केदार राम द्वारा बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त बिक्रम कुमार मेहता पिता रुपलाल महतो, उम्र लगभग 25 वर्ष, ग्राम ढेबादेरी, थाना मयूरहंड, जिला चतरा का संगीता कुशवाहा से साढ़े तीन वर्षों से प्रेम संबंध था.

दो माह पहले अभियुक्त की शादी हो गई. मृत युवती संगीता कुशवाहा अभियुक्त बिक्रम मेहता पर शादी करने का दबाव डाल रही थी. संगीता कुशवाहा रामगढ़ के वृंदावन होस्पिटल में नर्स के रूप में कार्यरत थी.

advt

इसे भी पढ़ें :भाजपा की मंशा हुई नाकाम, झारखंड में नहीं चला कर्नाटक और मध्य प्रदेश मॉडल : सुप्रियो

जब संगीता को पता चला कि बिक्रम ने दूसरी लड़की से शादी कर ली है, तो उसने बिक्रम से मोबाइल फोन से संपर्क किया और 19 जुलाई को खुद चलकर हजारीबाग जिले के सरैया तक आई.

वहां उसकी मुलाकात बिक्रम मेहता से हुई. वह मोटरसाइकिल से महेशा जंगल पहुंचा. दोनों के बीच शादी को लेकर विवाद हो गया. विवाद इतना बढ़ा कि बिक्रम ने दुपट्टा से संगीता की पहले हत्या कर दी और साक्ष्य मिटाने के ख्याल से महेशा के जंगल में लाकर रात में पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी,जिसमें युवती आधा से ज्यादा जल गई. जिससे शव की शिनाख्त नहीं हो पा रही थी.

20 जुलाई को स्थानीय लोगों ने महेशा जंगल में अधजली लाश को देखा, जिसकी सूचना मयूरहंड पुलिस को दी गई. सूचना पाकर थाना प्रभारी कौशल कुमार सिंह सदलबल घटनास्थल पर पहुंचे और शव को अपने कब्जे में ले लिया. शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल चतरा भेज दिया.

इसे भी पढ़ें :सकारात्मक बदलाव : जोहार प्रोजेक्ट से 2 लाख परिवारों के चेहरों पर मुस्कान

इस हत्या कांड का अज्ञात लोगों के विरुद्ध मयूरहंड थाना कांड संख्या 43/21 दर्ज करते हुए तफ्शीश शुरू कर दी. इस हत्याकांड की जानकारी सोशल मीडिया और समाचार पत्रों में प्रमुखता से प्रकाशित हुई.

सोशल मीडिया और समाचार पत्रों की खबर पढ़कर संगीता के पिता मयूरहंड थाना आकर अधजली अज्ञात शव के संबंध में जानकारी चाही.

थाना प्रभारी ने कहा कि लाश हजारीबाग अस्पताल मूर्दा कल्याण समिति के पास है. संगीता के पिता ने एक लड़के का फोटो दिखाते हुए कहा कि इस लड़के से हमारी लड़की का संबंध था.

उसने अपनी लड़की का मोबाइल नंबर भी दिया. मोबाइल लोकेशन से पता चला कि लड़की का मोबाइल सरेया हजारीबाग के समीप बंद हो गया था.

इसे भी पढ़ें :विधायकों की खरीद-फरोख्तः निशिकांत ने ली चुटकी, कहा- सीएम ने विधायकों की बकरे से भी कम कीमत लगायी

लड़की के मोबाइल फोन कॉल से अभियुक्त बिक्रम मेहता की शिनाख्त हुई, जिसे आज मयूरहंड पुलिस ने उसके घर से गिरफ्तार कर लिया. अभियुक्त के निशानदेही पर घटना-स्थल से कांड में प्रयुक्त मोटरसाइकिल, मोबाइल,जला हुआ दुपट्टा,पीले रंग की प्लास्टिक का थैला, और ब्लू और लाल रंग का मास्क बरामद हुआ है.

मयूरहंड पुलिस की तत्परता व त्वरित कार्रवाई से इस जघन्य कांड का 72घंटे में उद्भेदन कर लिया गया है,जो मयूरहंड पुलिस की बड़ी सफलता है.

इसे भी पढ़ें :पड़तालः झारखंड के मनरेगा रोजगार में आदिवासी-दलित मजदूरों का हिस्सा 51 से गिरकर 30 फीसदी पर क्यों पहुंचा?

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: