न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

याचिका दायर करने वाले अधिवक्ता की हो सकती है हत्या : ढुल्‍लू महतो

लाल, जलेश्वर, रणविजय और झा फंसा सकते हैं मुझे

171

Katrash(Dhanbad) : बाघमारा विधायक ढुलू महतो ने रविवार को जोगता थानेदार को पत्र  लिखा. पत्र में उन्‍होंने लिखा कि जनहित याचिका दायर करने वाले अधिवक्ता सोमनाथ चटर्जी को अविलंब सुरक्षा मुहैया कराया जाये. पत्र में लिखा है कि उनके राजनीतिक विरोधी अधिवक्ता की हत्या करवाकर मुझे फंसाने की साजिश कर सकते हैं. महतो ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि उनके राजनीतिक विरोधियों में पूर्व विधायक ओपी लाल, जलेश्वर महतो, रणविजय सिंह और विजय झा प्रमुख हैं.

सीबीआइ जांच रणविजय सिंह खुद आरोपी पाए गए

बाघमारा विधायक ने कहा है कि उपरोक्त लोगों का चरित्र इसी प्रकार रहा है. उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा है कि 1995 में ओपी लाल ने अपने राजनीतिक फायदे के लिए कमल यादव का अपह्ण करवा दिया था. जबकि 2003 में रणविजय सिंह ने अपने साथियों के साथ मिलकर प्रमोद सिंह की हत्या करवा दी थी. वहीं घटना में दूसरे लोगों को फंसाने का प्रयास किया था. सीबीआइ जांच रणविजय सिंह खुद आरोपी पाए गए. विधायक महतो ने कहा है कि अनेकों ऐसे उदहारण हैं जिसमें उक्त लोगों ने अपने राजनीतिक व व्यक्तिगत फायदे के लिए किसी की हत्या करवा कर, किसी को फंसाने का प्रयास किया है. ऐसी ही साजिश मेरे साथ भी की जा सकती है.

बाघमारा का राजनीतिक तापमान बढ़ना तय

बाघमारा विधायक ने पत्र की प्रतिलिपि महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री,  गृहमंत्री व भारत सरकार के सचिव को भी भेजा है. सोमनाथ चटर्जी वही अधिवक्ता हैं. जिन्होंने विधायक पर आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगाते हुए, एक जनहित याचिका दायर किया है. विधायक का इस बयान पर बाघमारा का राजनीतिक तापमान बढ़ना तय है.

इसे भी पढ़ें- ढुल्लू महतो के खिलाफ रांची में मीडिया के सामने खुलकर आयीं भाजपा नेत्री, कहा- विधायक ने मुझ पर बार-बार हमबिस्तर होने का दबाव डाला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: