Crime NewsJharkhandRanchi

रांची में थम नहीं रहा है जमीनी विवाद में हत्याओं का दौर, पखवाड़े में तीसरी हत्या

एदलहातु में मंगलवार सुबह जमीन कारोबारी अजय मुंडा की हत्या

Ranchi: रांची पुलिस ने जमीनी से जुड़ी हत्याओं को रोकने के लिए सभी थाना स्तर पर जमीन कारोबारियों की सूची तैयार करने की योजना बनाई थी, लेकिन यह सूची महज चंद पन्नों में ही सिमटकर रह गई. इस पर कार्यान्वयन नहीं हुआ, जिसका असर खून-खराबे के रूप में दिखने लगा है. बीते 13 दनों के अंदर जमीन विवाद में तीन लोगों की हत्या हो चुकी है. आज (मंगलवार) सुबह जमीन कारोबारी अजय मुंडा को घर से बुला कर हत्या कर दी गई है. अजय मुंडा एदलहातु का रहने वाला था.

इसे भी पढ़ेः विधायक खरीद-फरोख्त मामलाः जनहित याचिका दाखिल कर सीबीआई जांच की मांग

पुलिस ने बताया कि जमीनी विवाद बढ़ने का सबसे बड़ा कारण यह है कि एक ही जमीन को कई लोग एग्रीमेंट करा रखा है जिस वजह विवाद होते रहता है. जमीन विवाद के फलस्वरूप जमीन कारोबारी को मौत के घाट उतार दिया जा रहा है. रांची में हर महीने जमीन के खेल में खूनी संघर्ष होता है. ऐसे में जरूरत है कि इस तरह के मामलों पर नकेल कसने को लेकर कोई ठोस रणनीति बने.

advt

इसे भी पढ़ेः पुलिस के सामने ही पति Raj Kundra पर चीख पड़ीं थी शिल्पा, कहा- ‘क्यों किया ये सब…’

हाल के दिनों में जमीन विवाद को लेकर हुई खूनी संघर्ष

केस 1: 26 जुलाई 2021 को तमाड़ थाना क्षेत्र में अपराधियों ने अधिवक्ता मनोज झा को गोली मारकर हत्या कर दी. अधिवक्ता मनोज झा जेवियर संस्था के 14 एकड़ जमीन पर हो रहे बाउंड्री देखने गए थे. उक्त जमीन को लेकर जमीन पर लंबे समय से विवाद जारी है.

adv

केस 2: 14 जुलाई 2021 को रांची के हिनू चौक समीप 11 बजे कार में बैठे अल्ताफ अंसारी की सरेआम गोली मार कर हत्या कर दी गयी. घटना को अंजाम देने के बाद स्कूटी और मोटरसाइकिल सवार अपराधी भागने में सफल रहे थे. मामलें में मुख्य आरोपी अली खान पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

केस 3: 26 फरवरी 2021 को डोरंडा थाना क्षेत्र की फॉरेस्ट कॉलोनी रात आठ बजे मुकेश यादव की जमीन विवाद में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. बाइक सवार दो अपराधियों ने मुकेश को गोली मार दी थी. गोली मारने के बाद अपराधी तेजी से जीपीओ के रास्ते भाग निकले थे.

इसे भी पढ़ें : Glenmark Life Sciences समेत आज से खुले ये दो आईपीओ, जानिए निवेश करने के लिए ठीक है या नहीं?

केस 4: 12 फरवरी 2021 को रातू ब्लॉक के राजस्व उप निरीक्षक सत्य प्रकाश श्रीवास्तव की शाम 5:30 बजे बाइक से घर जाने के दौरान रातू थाना के काठीटांड़ से तिलता चौक जाने वाली एनएच-75 करीब घात लगाकर अपराधियों ने गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया था. घायल व्यक्ति को रांची के मेडिका हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, स्थिति में सुधार होता नहीं देख उसे नई दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था. जहां 21 फरवरी, 2021 के रात में उसकी मौत हो गयी थी.

केस 5: 21 दिसंबर 2020 को राजधानी रांची के लालगंज में जमीन विवाद को लेकर रिटायर्ड फौजी मैनेजर तिवारी ने अपनी पिस्टल से गोलीबारी कर दी थी. इस वारदात में एक मजदूर की मौत हो गई थी जबकि गोली लगने से एक अन्य युवक अमरेंद्र मिश्रा घायल हो गया था. दोनों के बीच काफी समय से जमीन विवाद चल रहा है.

केस 6: 19 दिसंबर 2020 को नामकुम थाना क्षेत्र के कालीनगर में दुकान के बाहर बैठे तीन लोगों पर बाइक एवं स्कूटी सवार अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिंग की और मौके से फरार हो गए थे. तीन लोगों को गोली लगी थी और तीनों जमीन कारोबारी थे.

इसे भी पढ़ें : Tokyo Olympics: मेंस हॉकी टीम ने स्पेन को 3-0 से हराया, बॉक्सर लवलीना बोर्गोहेन ने पदक की उम्मीद जगाई

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: