न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कांग्रेस के निगम घेराव कार्यक्रम में एस्सेल इन्फ्रा से कमीशनखोरी का मामला गरमाया

155

Ranchi : “जो सरकार सफाई न दे, वह सरकार निकम्मी है”, “सड़-गली सरकार को एक धक्का और दो”, “विकास का पहिया टूट गया है, नगर निगम लूट गया है” आदि नारों से रांची नगर निगम शुक्रवार को गूंज उठा. वजह थी शहर में फैली गंदगी के विरोध में रांची महानगर कांग्रेस द्वारा निगम का घेराव. इस दौरान कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि दुर्गापूजा का त्योहार काफी नजदीक है. इसके विपरीत राजधानी में सफाई व्यवस्था काफी खराब है. जरूरी है कि सफाई व्यवस्था में अविलंब सुधार किया जाये. निगम इसमें पूरी तरह से फेल है. दूसरी ओर सफाई कार्य का जिम्मा संभाल रही रांची एस्सेल इन्फ्रा की स्थिति आज किसी से छिपी नहीं है. इस दौरान महानगर कांग्रेस अध्यक्ष संजय पांडे, राजेश गुप्ता छोटू सहित कई कांग्रेसी नेता शामिल थे.

इसे भी पढ़ें- पार्षदों के एक समूह का भाजपा जनप्रतिनिधियों से मोहभंग, अब ले रहे विपक्ष का समर्थन

कमीशनखोरी कर कंपनी को दिया जा रहा बढ़ावा

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता सुबोधकांत ने कहा कि निगम का प्रमुख कार्य लोगों की मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा करना है. लेकिन, निगम इस कार्य में पूरी तरह असफल है. एक तरफ शहर में स्मार्ट सिटी बनाने की बात की जा रही है, दूसरी ओर सफाई कार्य संभालनेवाली रांची एमएसडब्ल्यू कंपनी सफाई कार्य में पूरी तरह से असफल है. कंपनी आज तक झिरी में प्लांट तक नहीं लगा सकी है. पार्षदों का गुस्सा कंपनी के प्रति दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है. वहीं दूसरी ओर प्रशासन में बैठे लोग केवल कमीशनखोरी कर कंपनी के कार्यक्षेत्र को बढ़ा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- राज्य में सामाजिक सुरक्षा योजना का हाल बेहाल, 8.5 लाख वृद्ध पेंशन से वंचित

मूलभूत सुविधाओं से वंचित है जनता : संजय पांडे

शहर में फैली गंदगी को लेकर संजय पांडे ने कहा कि जनता ने निगम के हर आदेश का पालन किया है. यहां तक कि होल्डिंग टैक्स की अव्यावहारिक बेतहाशा वृद्धि को स्वीकार किया और लाइन लगाकर बढ़े हुए टैक्स को जमा किया, परंतु शहर की जनता आज भी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है. दुर्गापूजा को शुरू होने को 12 दिन बचे हैं, लेकिन पूरा शहर कूड़ेघर में तब्दील है. कई ऐसे क्षेत्र हैं, जहां 10 दिनों तक कचरा का उठाव नहीं हो रहा है, न ही नालियों की सफाई हो रही है.

palamu_12

इसे भी पढ़ें- छह साल में भी पूरा नहीं हो पाया रांची शहरी जलापूर्ति फेज-1 का काम

रांची महानगर कांग्रेस की मांग

  • एस्सेल इन्फ्रा कंपनी को तत्काल कार्य से डिबार किया जाये.
  • टेंडर की शर्तों के उल्लंघन के आरोप में दंडित करते हुए एस्सेल इन्फ्रा से भुगतान की राशि वसूली जाये.
  • नवरात्रि से लेकर छठ महापर्व तक पुरानी व्यवस्था को बहाल करते हुए सफाई की जिम्मेदारी निगम ले. साथ ही सभी पार्षदों की देखरेख में तत्काल युद्धस्तर पर सफाई अभियान चलवाया जाये.
  • वार्डों में खराब हो चुकी स्ट्रीट लाइट को तत्काल बनवाया जाये.
  • छठ महापर्व को ध्यान में रखकर अभी से ही तालाबों की सफाई का विशेष अभियान चलाया जाये. साथ ही अस्थायी घाट का निर्माण कराया जाये.
  • नक्शा निष्पादन में तेजी लायी जाये, जिससे आम जनता को दिक्कतें न हों.
  • जन्म-मृत्यु प्रमाणपत्र, ट्रेड लाइसेंस, निबंधन जैसे मामलों का निष्पादन भी त्वरित गति से हो.
  • सीवरेज-ड्रेनेज के नाम पर सड़क में खोदकर छोड़ दिये गये गड्ढों को तत्काल भरा जाये. साथ ही कार्य में विलंब होने के कारणों की उच्चस्तरीय जांच हो.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: