न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

युवाओं को नौकरी देने का विज्ञापन निकालनेवाला संस्थान निकला फर्जी

झारखंड एजुकेशन डेवलपमेंट नामक संस्थान ने सरकारी विज्ञापन की तरह निकाला था नियुक्ति का विज्ञापन, आवेदकों से वसूल चुका है परीक्षा शुल्क

593

Ranchi : झारखंड के युवाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर ठगने का खेल खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. ताजा मामला राजधानी रांची का है, जहां झारखंड एजुकेशन डेवलपमेंट नामक संस्थान फर्जी विज्ञापन के माध्यम से युवाओं को ठगने का काम कर रहा है. संस्थान की ओर से ग्रामीण शिक्षक, जिला को-ऑर्डिनेटर, ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर, राज्य को-ऑर्डिनेटर और लेखापाल के लिए कुल 2476 पदों पर नियुक्ति का विज्ञापन निकाला गया है. इन नियुक्तियों के लिए सरकारी विज्ञापन की तर्ज पर परीक्षा शुल्क के साथ युवाओं से आवेदन मांगा गया है. इस विज्ञापन में कहा गया है कि आवेदन करने की तिथि 22 अगस्त 2018 से 20 सितंबर 2018 है. विज्ञापन में सभी पदों के लिए शैक्षणिक योग्यता भी बतायी गयी है. विज्ञापन के माध्यम से कई युवाओं ने इस संस्थान को सरकारी संस्था समझकर आवेदन किया, लेकिन न्यूज विंग की पड़ताल में यह संस्थान ही फर्जी निकला. न्यूज विंग ने जब इस संस्थान की वास्तविकता जानने के लिए इसके दिये पते रांची के इंद्रपुरी रोड नंबर 1, रातू रोड में पड़ताल की, तो पता चला कि इस तरह का कोई संस्थान उस जगह पर है ही नहीं.

युवाओं को नौकरी देने का विज्ञापन निकालनेवाला संस्थान निकला फर्जी
अखबार में छपा नियुक्ति संबंधी विज्ञापन.

इसे भी पढ़ें- कैसे दूर होगा अशिक्षा का अंधियारा, 245 दिन में सिर्फ 100 दिन ही होती है सरकारी स्कूलों में पढ़ाई

वेबसाइट और विज्ञापन के माध्यम से युवाओं को घोखा दे रहा संस्थान

पड़ताल में पता चला कि झारखंड एजुकेशन डेवलपमेंट नामक यह संस्थान विज्ञापन के माध्यम से रोजगार देने के नाम पर युवाओं को ठगने का कार्य कर रहा है. संस्थान युवाओं को रोजगार देने के नाम पर उनसे आवेदन शुल्क लेकर फर्जीवाड़ा कर रहा है. रांची के आवेदक कैलाश साहू ने बताया कि विज्ञापन सरकारी विज्ञापन जैसा लगा, इसलिए आवेदन कर दिया, लेकिन जब संस्थान के बारे में जानना चहा, तो संस्थान ही फर्जी निकला. इसका न ही कोई ऑफिस है, न ही कोई इस संस्थान के लोग. यह संस्थान रांची और झारखंड के युवाओं को नौकरी देने के नाम पर फर्जीवाड़ा कर रहा है. मोरहाबादी के विशाल ने बताया कि विज्ञापन में संस्थान की ओर से ऑनलाइन आवेदन एवं परीक्षा शुल्क जमा करने को कहा गया, इसके कारण ऑलाइन आवेदन किया. लेकिन, संस्थान की वास्तविकता जानने के बाद अपने को ठगा महसूस कर रहा हूं.

संस्थान झारखंड एजुकेशन डेवलपमेंट की वेबसाइट पर दिया गया पता, जो निकला फर्जी.
palamu_12

इसे भी पढ़ें-  UGC का निर्देश, देश के कॉलेजों से 80 हजार फर्जी शिक्षकों को निकाल बाहर करें

वेबसाइट पर दिया हुआ पता फर्जी, मोबाइल नंबर भी नॉट रीचेबल

झारखंड एजुकेशन डेवलपमेंट संस्थान की वेबसाइट पर जो पता दिया गया है, उस पते पर उस संस्थान का कोई अता-पता है ही नहीं.  साथ ही, जो मोबाइल नंबर 8292008962 संस्थान की वेबसाइट पर दिया गया है, जब न्यूज विंग ने इस मोबाइल नंबर पर फोन किया, तो यह फोन नॉट रीचेबल था. यह मोबाइल नंबर किसी संजय कुमार के नाम निर्गत है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: