BiharCourt NewsLead News

सहारा इंडिया पर हाइकोर्ट हुआ सख्त, चेयरमैन के उपस्थित न होने पर जतायी नाराजगी

Patna : पटना हाइकोर्ट गुरुवार को सहारा इंडिया पर सख्त हो गया. इस मामले की सुनवाई के दौरान सहारा के चेयरमैन सुब्रत राय हाजिर नहीं हुए तो पटना हाइकोर्ट सख्त हो गया. पटना हाइकोर्ट के न्यायाधीश संदीप कुमार की एकलपीठ ने गुरुवार को इस मामले की सुनवाई करते हुए सहारा के रुख पर कड़ी नाराजगी जतायी. दरअसल सुब्रत राय की तरफ से कोर्ट को बताया गया कि उनकी तबीयत ठीक नहीं है और मेडिकल के तौर पर सहारा के ही अस्पताल के दस्तावेज दिये गये जिस पर हाइकोर्ट काफी नाराज हो गया.

कोर्ट के अंदर एक समय तो ऐसा लगा कि सहारा की बिहार से जुड़ी परिसंपत्तियों को अटैच करने का आदेश दे दिया जायेगा लेकिन आखिरकार कोर्ट ने सुब्रत राय को हाजिर होने के लिए आखिरी मौका दिया.

इसे भी पढ़ें:देर रात 100 नंबर डॉयल कर बुलाई पुलिस, फिर दिया ऑर्डर ठंडी बियर की दो बोतल लेकर आएं, जानें क्या हुआ आगे

सुब्रत राय को किसी भी हाल में शुक्रवार को पटना हाइकोर्ट में सशरीर उपस्थित होना होगा. कोर्ट में सहारा की तरफ से यह बताया गया कि सुब्रत राय को बिहार आने में जान का खतरा है.

इस पर पटना हाइकोर्ट ने यह भी टिप्पणी की है कि ऐसा काम करना ही नहीं चाहिए. लेकिन कोर्ट की तरफ से या भरोसा दिया गया कि सुब्रत राय की सुरक्षा सुनिश्चित की जायेगी. किसी भी हाल में उन्हें शुक्रवार को 10:30 बजे कोर्ट में हाजिर होना होगा.

इसे भी पढ़ें:पटना में थानेदार से महिला ने मांगी बेटे की बॉडी तो थानेदार ने जड़ा थप्पड़, गुस्साये परिवारवालों ने अनिसाबाद रोड को किया जाम

गौरतलब है कि सहारा की अलग-अलग स्कीम में बिहार के निवेशकों का तकरीबन 80000 करोड़ रुपया जमा है. सहारा की तरफ से गुरुवार को कोर्ट में यह बताया गया कि वह 5 करोड़ रुपये एक शुरुआती किस्त के तौर पर निवेशकों को देने के लिए तैयार हैं लेकिन कोर्ट नहीं माना. कोर्ट ने कहा कि निवेशकों का पूरा पैसा वापस करना होगा और इसके बारे में खुद सुब्रत राय को जानकारी देनी होगी.

कोर्ट ने यह भी कहा कि वह न्यायपालिका से ऊपर नहीं हैं. इस मामले में कोर्ट के रुख को देखते हुए आखिरकार सहारा के वकील ने यह भरोसा दिया है कि सुब्रत राय कोर्ट में हाजिर होंगे.

इसे भी पढ़ें:BIG NEWS : ज्ञानवापी मस्जिद मामले में वाराणसी कोर्ट का बड़ा फैसला, कोर्ट कमिश्नर नहीं हटाए जाएंगे, 17 मई से पहले रिपोर्ट जमा करने का निर्देश

Advt

Related Articles

Back to top button