Crime NewsDhanbadJharkhandLead NewsRanchi

रांची के जेलर की हत्या की सुपारी लेनेवाला इनामी गैंगस्टर लखनऊ में धराया, खोले कई राज

उत्तर प्रदेश के डॉन मुन्ना बजरंगी का भी करीबी है गिरफ्तार अपराधी अभिनव प्रताप

advt

Ranchi : बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा होटवार में बंद शूटर अमन सिंह ने धनबाद पुलिस के समक्ष सनसनीखेज खुलासा किया है. पुलिस उसे रिमांड पर धनबाद ले गयी है. अमन सिंह ने बताया कि जब वो धनबाद जेल में बंद था तो रांची के जेलर को जान से मारने की धमकी दी थी. जेल से ही होटवार जेलर की हत्या का प्लान बना डाला. अमन सिंह ने अपने खास गुर्गे अभिनव प्रताप सिंह को हत्या का टास्क दिया था.

अमन ने बताया कि रांची में दशहत फैलाने की नियत से होटवार जेलर को मारने का प्लान बनाया था. इस प्लान की जिम्मेदारी अमन सिंह ने अभिनव सिंह को सौंपी थी. कोयला के कारोबार में अमन डीओ लगाने की सोच रहा था. ढूलू महतो के एरिया से वह कोयला उठाने की कोशिश में था. लिहाजा ढुल्लू के खासमखास राजेश गुप्ता की हत्या की भी प्लानिंग बना ली थी.

advt

इसे भी पढ़ें :इस बार गर्मी में फिर रूलायेगी बिजली, 2015 से चल रहा अंडग्राउंड केबलिंग का काम अब भी अधूरा

धनबाद में डिप्टी मेयर की हत्या के आरोप में जेल में बंद है अमन सिंह

धनबाद के डिप्टी मेयर नीरज सिंह हत्याकांड के आरोप में जेल में बंद अमन सिंह. अमन ने झारखंड के कोल क्षेत्र में अपना वर्चस्व स्थापित करने के लिए झारखंड और उत्तर प्रदेश के अपराधियों का एक संगठित गिरोह बनाया है. अभिनव सिंह और अन्य अपराधी आपस में इंटरनेट कॉलिंग के माध्यम से संपर्क में रहकर धनबाद और रांची में आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं.

advt

इसे भी पढ़ें :रांची जिला मारवाड़ी सम्मेलन का चुनाव 21 फरवरी को

विधायक ढुल्लू महतो के करीबी राजेश गुप्ता को मारने के लिए की थी रेकी

पुलिस को अभिनव सिंह ने बताया कि अमन सिंह के कहने पर ही उसने अपने साथी रवि ठाकुर के साथ विधायक ढुल्लू महतो के करीबी राजेश गुप्ता की तीन दिन लगातार रेकी कर जान से मारने की कोशिश की थी. लेकिन अधिक भीड़ के कारण सफलता नहीं मिली तो उसके घर पर बम से हमला किया था.

ढुल्लू महतो की धनबाद में कोयले की रैक लगती है. अमन सिंह भी कोयले का रैक लगवा रहा था. परंतु ढुल्लू महतो ने नहीं लगने दिया. इस कारण ढुल्लू को सबक सिखाने के लिए राजेश गुप्ता पर हमला कराया गया था. इसके अलावा अभिनव सिंह ने अंबे कोल कंपनी के जीएम की कार पर फायरिंग की गई थी. इसके अलावा गोविंदपुर में पेट्रोल पंप पर फायरिंग में भी वह शामिल था. इसके अलावा कारोबारी राजेश कुमार सिंह से रंगदारी भी मांगी थी.

इसे भी पढ़ें :चोर गिरोह का भंडाफोड़, बंद घरों में करते थे चोरी  

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: