National

17वीं लोकसभा का पहला सत्र छह जून से संभव, 15 जून तक चल सकता है

NewDelhi : देश की 17वीं लोकसभा का पहला सत्र छह से 15 जून तक चलने की संभावना है. सूत्रों ने भाषा को बताया कि 31 मई को होने वाली कैबिनेट की पहली बैठक में सत्र की तारीख पर अंतिम फैसला लिया जायेगा. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 30 मई को राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायेंगे. यह उनका दूसरा कार्यकाल होगा.

साथ ही, मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को भी पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी जायेगी. राष्ट्रपति भवन ने रविवार को यह जानकारी दी. राष्ट्रपति के प्रेस सचिव अशोक मलिक द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 30 मई को शाम 7 बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायेंगे.

इसे भी प वाराणसी में मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा, मैं पहले भाजपा कार्यकर्ता हूं, बाद में प्रधानमंत्री

 मंत्रियों के नामों का अभी खुलासा नहीं हुआ है

नरेंद्र मोदी भाजपा के ऐसे पहले नेता हैं जिन्हें प्रधानमंत्री के रूप में पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद दूसरी बार भी इस पद के लिए चुना गया है. साथ ही जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद मोदी पूर्ण बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार सत्ता के शिखर पर पहुंचने वाले तीसरे प्रधानमंत्री हैं. भाजपा से अटल बिहारी वाजपेयी भी लगातार दो कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री चुने गये थे लेकिन उनका पहला कार्यकाल सिर्फ एक साल सात महीने का रहा था.

नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के मंत्रियों के नामों का अभी खुलासा नहीं हुआ है. हालांकि, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि शपथ ग्रहण समारोह में विश्व के कुछ नेता भी शरीक होंगे या नहीं.  दरअसल, 2014 के शपथ ग्रहण के दौरान मोदी ने पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सहित दक्षेस देशों के नेताओं को आमंत्रित किया था. उस समारोह में विदेशी गणमान्य लोगों सहित करीब 2,000 लोगों को आमंत्रित किया गया था.

लोकसभा चुनाव में मोदी की प्रचंड जीत पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सहित कई वैश्विक नेताओं ने उन्हें बधाई दी है.  राष्ट्रपति ने भाजपा और राजग संसदीय दल का सर्वसम्मति से नेता चुने गये नरेन्द्र मोदी को शनिवार को प्रधानमंत्री नामित करते हुए केंद्र में नयी सरकार बनाने का न्यौता दिया था.

इसे भी पढ़ेंःप. बंगाल में फिर चुनावी हिंसाः एक और भाजपा कार्यकर्ता की हत्या, जलपाईगुड़ी में TMC-BJP में भिड़ंत

Advt

Related Articles

Back to top button