JharkhandLead NewsRanchi

सिमडेगा मॉब लिंचिंग में मारे गए संजू प्रधान के परिवार को मिला अंबेडकर आवास का लाभ, विधवा पेंशन भी

Ranchi: सिमडेगा जिला प्रशासन मॉब लिंचिंग में मारे गये संजू प्रधान के परिजन को अपने स्तर से अंबेडकर आवास योजना और विधवा पेंशन योजना का लाभ मुहैया करा दिया है. डीसी सुशांत गौरव ने स्व संजू प्रधान की पत्नी सपना कुमारी को पिछले दिनों पति संजू का मृत्यु प्रमाण पत्र भी अपने हाथों मुहैया करा दिया. साथ ही गांव में सुरक्षा के लिहाज से दो सोलर हाई मास्ट लाइट के अधिष्ठापन का निर्देश दिया है. इस पर काम शुरू हो गया है.

इसे भी पढ़ेंः  लापरवाही: रांची सदर अस्पताल में कोरोना के बहाने देर से पहुंच रहे डॉक्टर-स्टाफ, मरीज परेशान

 

मालूम हो कि 4 जनवरी को बेसरा जारा गांव, सिमडेगा में मॉब लिंचिंग घटना में संजू प्रधान को ग्रामीणों ने मार डाला था. संजू पर लकड़ी काटे जाने के आरोप और पुलिस के स्तर से कोई कार्रवाई नहीं होने की बात पर गांव वालों ने कानून को ताक पर रखकर यह कदम उठाया था. हालांकि बाद में स्थानीय पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल करीब एक दर्जन ग्रामीणों को पकड़ लिया है. उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई जारी है.

संजू की हत्या पर बवाल

गौरतलब है कि संजू प्रधान हत्याकांड पर राज्यभर में विपक्षी दलों खासकर भाजपा ने बवाल मचाया था. राज्य सरकार के विधि व्यवस्था पर सवाल उठाए थे. केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के अलावे पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी और रघुवर दास प्रदेश भाजपा के कई नेता बेसरा जारा गये थे. स्थानीय पुलिस की भूमिका पर नाराजगी जाहिर की थी. बाबूलाल ने कहा था कि संजू भाजपा कार्यकर्ता थे. अपने घर के आगे गोमांस की बिक्री और गांव में गोकशी का विरोध करते थे. इसी कारण उन्हें सुनियोजित और क्रूरतम तरीके से मारा गया. मामले की सीबीआई जांच हो. परिजन को सरकारी नौकरी और 10 लाख मुआवजा मिले. एसपी और स्थानीय थाना प्रभारी (कोलेबिरा, ठेठईटांगर) के खिलाफ लीगल एक्शन लिया जाना चाहिये.

इसे भी पढ़ेंः  गोपालगंज में नवनिर्वाचित मुखिया की गोली मारकर हत्या, घर के सामने अपराधियों ने वारदात को दिया अंजाम

Related Articles

Back to top button