Crime NewsDhanbadJharkhand

मृतकों के परिजन कर रहे थे प्रदर्शन, पुलिस ने कर दिया लाठीचार्ज, कई घायल

Dhanbad: झरिया थाना व बोर्रागढ़ ओपी क्षेत्र के आर के ट्रांसपोर्ट आउटसोर्सिंग में ईस्ट बसुरिया निवासी एना आरके ट्रांसपोर्ट आउटसोर्सिंग परियोजना के हाजिरी बाबू 26 वर्षीय मोहित कुमार के शव के साथ प्रदर्शन करने के दौरान बुधवार के दोपहर झरिया थाना इंस्पेक्टर पी के सिंह और पुलिस बल ने लाठियां बरसाईं जिससे शव के साथ परियोजना में प्रदर्शन कर रहे लोगों में अफरा-तफरी मच गई. लगभग आधा दर्जन लोग चोटिल हो गए.

मृतक के भाई पवन श्रीवास्तव का कहना है हम लोग मुआवजा और भाई की हत्या की जांच को लेकर शांतिपूर्वक आंदोलन कर रहे थे. इसी बीच झरिया थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर बिना चेतावनी दिए लोगों पर लाठी चार्ज कर दिया. यह पुलिस की बर्बरता है.

इसे भी पढ़ेंःकोरोना के बढ़ते मामलों के कारण सभी सरकारी कार्यालयों में बायोमेट्रिक अटेंडेंस पर रोक, रजिस्टर पर बनेगी हाजिरी

जानकारी पाकर प्रदेश कांग्रेस के प्रतिनिधि शमशेर आलम मौके पर पहुंचे. कहा कि पुलिस की ओर से लाठी चार्ज निंदनीय है कहा कि यहां लाठीचार्ज ऐसी कोई नौबत नहीं थी पुलिस शांतिपूर्ण तरीके से भी समझा सकती थी लेकिन झरिया इंस्पेक्टर की तानाशाही देखने को मिली और पहुंचते ही लाठियां चलानी शुरू कर दी. कहा कि लाठी चार्ज मामले को लेकर जांच और कार्यवाही होनी चाहिए.

मालूम हो कि एना आउटसोर्सिंग के हाजिरी बाबू 26 वर्षीय मोहित की हत्या कर शव को अपराधियों ने निमियाघाट थाना क्षेत्र में फेंक दिया गया था. पुलिस शव को बरामद कर छानबीन में जुटी है.

मोहित की बाइक तेतुलमारी क्षेत्र से पुलिस ने जब्त की है. मेरी ताकत मोहित हिना वॉशिंग में कार्य के लिए पहुंचे थे लेकिन कुछ देर के बाद ही वह कहीं चले गए जिसके बाद निमियाघाट थाना क्षेत्र से शव बरामद किया गया था.

इसे भी पढ़ेंःहाइकोर्ट ने परमबीर सिंह से पूछा: आपने देशमुख के खिलाफ पुलिस में शिकायत क्यों नहीं दर्ज करायी?

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: