न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

फिर से बुलंद हो रहे हैं अतिक्रमणकारियों के हौसले, प्रशासन मौन

106

Gomia : गोमिया प्रखंड क्षेत्र के होसिर मौजा के तहत खाता संख्या 581,प्लॉट संख्या 4933, रकवा 13 डिसमिल केशर ए हिंद भूमि एवं 04 डिसमिल आम रास्ता को प्रसाशन ने काफी मशक्कत के बाद लगभग एक वर्ष पूर्व अतिक्रमणकारियों के कब्जे से मुक्त कराया था. परंतु लगभग एक वर्ष बीतने के बावजूद भी प्रशासन के द्वारा उक्त भूमि की अब तक सुध नहीं ली गयी.

प्रशासन इस बारे में गंभीरता नहीं दिखा रही

प्रशासन के द्वारा उक्त भूमि के संबंध में गंभीरता नहीं लेने पर फिर से अतिक्रमणकारियों के हौसले बुलंद होते चले गए. अतिक्रमणकारियों ने पुनः उक्त भूमि पर धीरे-धीरे अतिक्रमण करना शुरू कर दिया. एक दो जगहों पर तो इंट की दीवारें भी खड़ी कर दी गयी हैं. फिर भी प्रशासन इस बारे में गंभीरता नहीं दिखा रही है. लगभग रोजाना ही जिला प्रशासन से लेकर अनुमंडल प्रशासन के पदाधिकारियों का उक्त भूमि से सटे हुए मुख्य सड़क पर से होकर आना जाना लगा रहता है. क्या कारण है कि प्रशासन इस पर चुप्पी साधे हुए हैं.

सड़कों में लगती है अक्सर जाम

लोगों के अनुसार साड़म बाजार के मुख्य सड़क में अक्सर जाम लगने की स्थिति बनी रहती है. मोटरसाइकिल से लेकर बड़े-बड़े सवारी गाड़ियां भी सड़क किनारे ही खड़े रहते हैं. जिसकी वजह से सड़कों में अक्सर जाम लग जाती है. कभी कभार घंटो जाम लग जाता है. जिससे आवागमन करने वाले यात्रियों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है. साथ ही लोगों ने कहा कि प्रशासन उक्त भूमि को पूर्णत अतिक्रमण मुक्त कराकर वहां गाड़ी पार्किंग करने का आदेश निर्गत करा दें, तो लोगों को सड़क जाम में फंसने से मुक्ति मिल जाएगी.

अतिक्रमण हटाने के बाद भी नहीं दिखा असर

मालूम हो कि लगभग एक वर्ष पूर्व गोमिया अंचल अन्तर्गत होसिर मौजा 123 के तहत खाता नंबर 581,प्लॉट नंबर 4933, रकवा 13 डिसमिल केसर ए हिंद भूमि एवं 4 डिसमिल आम रास्ता को आवासीय दंडाधिकारी टुडू दिलीप, तत्कालीन गोमिया बीडीओ सह मजिस्ट्रेट सुधीर प्रकाश, सीओ यशवंत नायक के नेतृत्व में प्रशासन के द्वारा अतिक्रमण मुक्त अभियान चलाया गया था. प्रशासन ने 13 डिसमिल केसर ए हिंद भूमि पर अतिक्रमण किये हुए 18 लोगों एवं 04 डिसमिल आम रास्ता भूमि पर अतिक्रमण किये हुए 07 लोगों को उक्त भूमि से अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस जारी कर भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराया था.

दुकान नहीं रहने पर हमलोग भूखे मर जायेंगे

परंतु वर्तमान समय में पुनः वे लोग धीरे धीरे उक्त भूमि पर अतिक्रमण करना शुरू कर दिये हैं. वहीं उनलोगों के अनुसार उक्त भूमि की मापी सही नहीं हुई है. होश संभालने के उपरांत हमलोग यहीं पर दुकान के सहारे रोजी रोजगार करके अपना और अपने परिवार का भरण पोषण करते थे. दुकान नहीं रहने पर हमलोग भूखे मर जायेंगे. वहीं इस संबंध में बेरमो अनुमंडल पदाधिकारी प्रेमरंजन ने कहा कि उक्त भूमि पूर्णतः अतिक्रमण मुक्त नहीं हो पायी है. जल्द ही उक्त भूमि को पूर्णतः अतिक्रमण मुक्त करा ली जाएगी. इसके बावजूद भी जो लोग भूमि का अतिक्रमण करेंगे तो उनपर कार्रवाई की जायेगी.

इसे भी पढ़ें : पेथई तूफान पड़ा कमजोर, झारखंड में मंगलवार को कहीं-कहीं तेज बारिश के आसार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: