BiharCorona_UpdatesLead News

बुजुर्ग महिला ने कुछ ही देर में ले लिये कोविशील्ड और कोवैक्सीन के दो डोज, जाने क्या हुआ आगे

Patna : पुनपुन प्रखंड के बेल्दारीचक उत्क्रमित मध्य विद्यालय वैक्सीनेशन सेंटर पर बुधवार को उस समय अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गयी, जब एक बुजुर्ग महिला ने कुछ ही अंतराल पर कोरोना वैक्सीन के दो डोज ले लिये. ये दो डोज दो अलग-अलग वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन के थे. कुछ देर के बाद जब इसकी जानकारी उसके परिजनों को हुई, तो उन्होंने वहां पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया.

क्या कहते हैं चिकित्सा पदाधिकारी

इधर जब इसकी जानकारी वहां मौजूद स्वास्थ्यकर्मियों को हुई तो उनके होश उड़ गये. मौके पर मुखिया पति व अन्य लोगों ने मामले को शांत कराया.चिकित्सा पदाधिकारी संजय कुमार के निर्देश के बाद एक मेडिकल टीम ने महिला का स्वास्थ्य परीक्षण किया. चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि महिला का स्वास्थ्य ठीक है.

इसे भी पढ़ें :Ranchi News: डेढ़ गुना टैक्स बचाने के लिये 48 हजार ने कराया कैंपस में रेन वाटर हार्वेस्टिंग

ऐसे ले लिये दोनों डोज

चिकित्सा पदाधिकारी संजय कुमार ने बताया कि एक ही कमरे में 18+ और 45+ वालों को वैक्सीन दी जा रही थी. इसके लिए कोविशील्ड व कोवैक्सीन के लिए अलग-अलग लाइन लगी थी. अवधपुर निवासी रवींद्र महतो की 63 वर्षीया पत्नी सुनीला देवी को सारी प्रक्रिया करने के बाद कोवैक्सीन का डोज देकर कुछ देर बैठने के लिए बोला गया. लेकिन, वह कुछ देर बैठने के बाद दूसरी पंक्ति में जा खड़ी हुई और वहां उसने कोविशील्ड का भी डोज ले लिया.

advt

इसे भी पढ़ें :जाने, मोहम्मद अजहरुद्दीन ने ऐसा क्या किया जो हैदराबाद क्रिकेट संघ ने अध्यक्ष पद से हटाया

क्या कहती हैं महिला

बाद में महिला से पूछा गया तो उसने बताया कि दोनों पक्तियों में लोग वैक्सीन ले रहे थे, इसलिए हमें लगा कि दोनों पंक्तियों में जाकर वैक्सीन लेनी है. चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि सेंटर पर मौजूद दो एएनएम चंचला कुमारी व सुनीता कुमारी से स्पष्टीकरण मांगा गया है. उन्होंने बताया कि ऐसे एक साथ दो डोज नहीं पड़ने हैं. लेकिन भूलवश पड़ भी गये हैं तो इससे कोई ज्यादा परेशानी नहीं है.

इसे भी पढ़ें :झारखंड जगुआर में एसपी के दो ही पद, चार्ज के इंतजार में अजीत पीटर डुंगडुंग

डॉक्टर बोले, 14 दिन बाद एंटीबॉडी टेस्ट जरूरी

पटना एम्स के नोडल कोरोना ऑफिसर डॉ संजीव कुमार ने बताया कि अगर गलती से किसी को एक ही दिन में वैक्सीन के दो डोज दे दिये गये हैं तो ऐसी स्थिति में उसका शारीरिक रिएक्शन क्या है, उसे देखते हुए इलाज किया जा सकता है. उसे अगर कोई रिएक्शन नहीं हुआ है, तो 14 दिन बाद उसका एंटीबॉडी टेस्ट किया जाना जरूरी है. उसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे इलाज हो सकेगा.

इसे भी पढ़ें :रांची विवि ने खोले चार कॉलेज, दो में एडमिशन के लिए एप्लीकेशन तक नहीं

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: