BiharCrime News

मोतिहारी जेल में बंद अपराधी ने व्यापारी से मांगी 25 लाख रुपये की रंगदारी, नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी

Motihari : पूर्वी चंपारण जिले में अपराध एक उद्योग का रूप लेता जा रहा है और उस अपराध की योजना का केंद्र बन रहा है मोतिहारी सेंट्रल जेल. जहां से पूरे जिला में आपराधिक गतिविधियों का संचालन हो रहा है. जेल में बंद अपराधियों के इशारे पर उनके गुर्गे जिला में हत्या, रंगदारी और लूट समेत कई आपराधिक कांडों को अंजाम दे रहे हैं. अपराधी जेल से व्यवसायियों को फोन करके रंगदारी मांग कर रहे हैं. जिससे जिले के व्यवसायियों में दहशत का माहौल है. इस बीच आपको बता दें कि जिला के आदापुर के रहनेवाले एक कपड़ा व्यवसायी टुन्नू प्रसाद से जेल में बंद बदमाश कृष्णा कुमार ने 25 लाख रुपये की रंगदारी फोन कर मांगी है. बदमाश ने रंगदारी नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दी है. और ये धमकी मोबाइल पर मैसेज के माध्यम से भी दी गयी है. जिसे लेकर व्यवसायी टुन्नू प्रसाद ने थाना में आवेदन दिया है. व्यवसायी टुन्नू प्रसाद का रक्सौल में कपड़ा का दुकान है.

टुन्नू अपने पिता के मौत के बाद अंतिम संस्कार करके घर लौटे थे, उसी समय जेल में बंद बदमाशों ने दो बार कॉल करके रंगदारी मांगी. पहली बार फोन करनेवाले बदमाश ने अपना नाम कृष्णा कुमार और दूसरी बार फोन करने वाले बदमाश ने अपना नाम मुकेश कुमार बताया. बदमाशों का फोन आने के बाद से व्यवसायी का परिवार दहशत में है.

इसे भी पढ़ें:राज्यसभा सीट को लेकर सीएम से मिले कांग्रेसी, पेश की दावेदारी

ram janam hospital
Catalyst IAS

दहशत के साये में जी रहे व्यवसायी टुन्नू प्रसाद ने बताया कि वह अपने पिता का अंतिम संस्कार करके घर पहुंचे थे. उसी समय 9953640549 नंबर से एक फोन आया और उसने अपना नाम कृष्णा कुमार बताते हुए जेल से फोन करने की बात कही.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

जेल से फोन करनेवाले बदमाश ने कहा कि 25 लाख रुपया लेकर कोर्ट में आ जाना और पुलिस को कुछ मत बताना. नहीं तो तुम्हारे पिता की चिता अभी ठंडी नहीं हुई है और तुम्हारी चिता जल जायेगी.

इसे भी पढ़ें:पूजा सिंघल के Whats app चैट से बढ़ सकती है रांची डीसी की पेरशानी!

उसके कुछ देर बाद एक दूसरा फोन उसी नंबर से आया और उसने अपना नाम मुकेश कुमार बताया. मुकेश ने भी 25 लाख की रंगदारी मांगते हुए वही बात दोहरायी, जो कृष्णा ने कही थी. व्यवसायी ने कहा कि उसे पुलिस पर भरोसा है ओर पुलिस ने उसे आश्वस्त भी किया है.

बता दें कि आदापुर थाना क्षेत्र के भेड़िआही के रहनेवाले टुन्नू प्रसाद की रक्सौल में कपड़े की दुकान है. टुन्नू अपने वृद्ध पिता पारसनाथ प्रसाद की स्वाभाविक मौत के बाद उनका दाह संस्कार करने गांव गये थे. दाह संस्कार के बाद अपने घर लौटे ही थे. उसी दौरान बदमाशों ने फोन करके रंगदारी की मांग की थी.

पुलिस ने इस मामले में आवेदन मिलने के बाद जांच शुरू कर दी है. जिस नंबर से फोन करके रंगदारी मांगी गयी थी. उस नंबर की कॉल डिटेल्स निकाल कर पुलिस कार्रवाई में जुटी हुई है.

इसे भी पढ़ें:झारखंड में भ्रष्ट अनंत, भ्रष्टाचार कथा अनंता- पार्ट-1

Related Articles

Back to top button