BusinessCrime NewsJharkhandLead NewsRanchi

बैंक अधिकारी का ओरिजिनल सर्टिफिकेट कुरियर कंपनी ने किया गुम, कहा- फिर से मंगवा लीजिए

  • समय पर ऑफिस में सर्टिफिकेट जमा नहीं किया तो करियर होगा प्रभावित
  • गर्भवती हैं बैंक ऑफिसर, परिवार ने स्वास्थ्य को लेकर जतायी चिंता

Ranchi: पंजाब नेशनल बैंक की एक अधिकारी का एमबीए का ओरिजिनल सर्टिफिकेट कुरियर कंपनी ‘Delhivery’ ने गुम कर दिया है. शहर के बूटी मोड़ बैंक अधिकारी प्रज्ञा ने जयपुर के सुरेश ज्ञान विहार यूनिवर्सिटी (SGVU) से ऑनलाइन मोड में एमबीए किया है. उन्हें इस कोर्स का ओरिजिनल सर्टिफिकेट 15 जुलाई तक अपने ऑफिस में जमा करना है.

यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने 25 जून को कुरियर कंपनी Delhivery के माध्यम उन्हें सर्टिफिकेट डिस्पैच कर दिया था, लेकिन वह प्रज्ञा तक पहुंचा ही नहीं. बहुत छानबीन करने पर कुरियर कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि सर्टिफिकेट गुम हो गया है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

प्रज्ञा के पति अभिषेक बनर्जी ने बताया कि पोर्टल के माध्यम से उन्हें जानकारी मिली कि 27 जून को उनका कंसाइनमेंट ‘डेल्हीवरी’ के नामकुम हब पहुंचा था. 27 को ही हब से उसे हुम्बई स्थित ब्रांच ऑफिस पहुंचाया गया.

The Royal’s
Pushpanjali
Sanjeevani
Pitambara

अभिषेक ने बताया कि ब्रांच ऑफिस के इंजार्ज (स्टेशन मैनेजर) ज्ञानेश्वर ने उसी दिन देखा कि उनका कंसाइनमेंट मिसिंग है, लेकिन न तो उन्होंने पोर्टल में अपडेट किया और न ही प्रज्ञा को इस बारे में कोई सूचना दी. इस बीच 5 जुलाई को पुनः चेक करने पर कंसाइनेंट ट्रांजिट में दिखाने लगा.

इसे भी पढ़ें :Samastipur : अंतिम संस्कार कर लौट रहे थे, बूढ़ी गंडक में नाव डूबी, तीन की मौत, 6 लापता

स्टेशन मैनेजर ने कहा- गुम हुआ तो क्या, फिर से मंगा लीजिए

अभिषेक ने बताया कि उन्होंने किसी को नामकुम भेजकर पता लगाया तो वहां बताया गया कि उनका पार्सल हुम्बई में है. वे स्टेशन मैनेजर ज्ञानेश्वर से बात कर खुद हुंबई गये तो वहां बेहद गैरजिम्मेदाराना जवाब मिला कि सर्टिफिकेट फिर से मंगा लीजिए.

उस दिन तक पार्सल ट्रांजिट में ही शो कर रहा था. शिकायत करने के बाद उसे पोर्टल पर ‘लॉस्ट’ दिखाया जाने लगा. अभिषेक ने कंपनी के सिक्योरिटी हेड से बात की तो उन्होंने बेहद लापरवाही से कहा कि देखते हैं, शायद खोजने से मिल जाये.

इसे भी पढ़ें :भाजपा की चिंता छोड़ पहले अपने गठबंधन को संभाले झामुमोः प्रतुल शाहदेव

करियर और हेल्थ दोनों को नुकसान

अभिषेक ने बताया कि प्रज्ञा का सर्टिफिकेट समय पर नहीं मिलने पर वह ऑफिस में नहीं जमा कर पायेंगी जिससे उनका करियर प्रभावित होगा. वह गर्भवती हैं और इस मानसिक दबाव का असर उनके स्वास्थ्य और होने वाले बच्चे पर भी पड़ सकता है. डॉक्टर ने इसको लेकर गंभीर चिंता जतायी है.

अभिषेक का कहना है कि यदि 14 जुलाई तक उन्हें सर्टिफिकेट नहीं मिला तो वे कंज्यूमर फोरम में मुकदमा दायर करेंगे.
उन्होंने बताया कि प्रज्ञा ने गर्भवस्था में बहुत मेहनत और तकलीफ से पढ़ाई की थी लेकिन अब लगता है कुरियर कंपनी की गैरजिम्मेदाराना रवैये के कारण उनको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है.

इसे भी पढ़ें :राज्य के 15 लाख उपभोक्ताओं ने कनेक्शन ले लिया, पर जमा नहीं किया बिजली बिल, जेबीवीएनएल काटेगा कनेक्शन

Related Articles

Back to top button