JharkhandLead NewsMain SliderNEWSRanchi

नयी बिजली दरों के लिये आयोग को अब तक नहीं मिला प्रस्ताव, अप्रैल में तय होनी है नयी दरें

वार्षिक रेवेन्यू रिक्वायरमेंट के प्रस्ताव पर जनसुनवाई फरवरी में

Ranchi :  झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड ने आयोग को अभी तक टैरिफ पीटिशन नहीं दिया है. ये टैरिफ पीटिशन नयी बिजली दरों के लिये दी जानी है. जो झारखंड राज्य विद्युत नियामक आयोग को दी जायेगी. नियामक आयोग की मानें तो नयी बिजली दरें अप्रैल में तय की जानी है. लेकिन इसकी दरों से संबधित कोई प्रस्ताव जेबीवीएनएल ने आयोग को नहीं दिया है.

 

जेबीवीएनएल ने जो पीटिशन आयोग को दिया है वो वार्षिक रेवेन्यू रिक्वायरमेंट के लिये दिया है. जिस पर आयोग फरवरी को जनसुनवाई करेगी. नियामक आयोग के सचिव आरपी नायक की मानें तो नये बिजली दरों के लिये जेबीवीएनएल ने टैरिफ पीटिशन नहीं दिया है. टैरिफ पीटिशन आने के बाद लगभग एक माह का समय पीटिशन पढ़ने में लगेगा.

 

पीटिशन पर की जाती है जनसुनवाई

आयोग की मानें तो टैरिफ पीटिशन पढ़ने के बाद इस पर जनसुनवाई की जाती है. जिसमें अलग अलग सेक्टर के उपभोक्ता, जेनरेटर, आम उपभोक्ता आदि शामिल होते है. जनसुनवाई में पीटिशन के संबध में आपत्ति या सहमति दर्ज की जाती है. जिसके बाद आयोग नयी बिजली दरों को तय करती है. नियमतः नये वित्तिय वर्ष के पांच महीने पहले ही ये पीटिशन दी जानी चाहिये. लेकिन अभी तक जेबीवीएनएल ने टैरिफ पीटिशन नहीं दिया है.

 

कोरोना के कारण नहीं किया था बढ़ोतरी

साल 2020-21 में जेबीवीएनएल के पीटिशन के अनुसार बिजली दरों को नहीं बढ़ाया गया था. कोरोना महामारी और उपभोक्ताओं की बातों को ध्यान में रखते हुए नियामक आयोग ने साल 2019-20 के बिजली दरों को जारी रखा. पिछले साल कोरोना महामारी के कारण बिजली दरें अक्टूबर में घोषित की गयी थी. जिसके मुताबिक घरेलू बिजली दर 5.75 रूपये और कर्मिशयल बिजली दर 7.25 प्रति यूनिट है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: