न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मुख्यमंत्री ने संथालपरगना के सभी रेलवे स्टेशनों पर आम सूचनाएं अब ओलचिकी लिपि में देने को रेल मंत्री को पत्र लिखा

62

Ranchi: संथालपरगना के सभी रेलवे स्टेशनों में अब आम सूचनाएं ओलचिकी लिपी में लिखी दिखाई दे सकती हैं. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इस मसले पर केंद्रीय रेल मंत्री पीयुष गोयल को पत्र लिखा है. पत्र में संथालपरगना के सभी 6 जिलों एवं कोल्हान प्रमंडल के पूर्वी सिंहभूम जिला के अंतर्गत पड़नेवाले रेलवे स्टेशनों पर आम सूचना की उद्घोषणा हिंदी के साथ संथाली भाषा में भी किये जाने का आग्रह किया है.

सूचना पट्ट पर भी ओलचिकी लिपि

सूचना पट्ट पर ओलचिकी लिपि में भी रेलवे स्टेशन का नाम सहित अन्य आम सूचना प्रदर्शित करने का अनुरोध किया है. इससे न केवल संथाली भाषा-भाषी जनता को सुगमता से सूचना प्राप्त होगी बल्कि, उनमें अपनी भाषा के प्रति गौरव का भी बोध होगा. पत्र में यह भी कहा गया है पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में संथाली भाषा को संविधान की आठवीं सूची में सम्मिलित किया गया है.

सरकारी कार्यालय और स्कूलों के नाम भी ओलचिकी लिपि में

SMILE

इससे पहले मुख्यमंत्री ने संतालपरगना के सभी छह जिला दुमका, देवघर, पाकुड़, गोड्डा, जामताड़ा एवं साहेबगंज तथा कोल्हान क्षेत्र के पूर्वी सिंहभूम जिला में संथाल जनजाति समुदाय की बड़ी जनसंख्या को देखते हुए इन जिलों में स्थित सभी सरकारी कार्यालयों- विद्यालयों के नाम संथाली भाषा की लिपि ओलचिकी में भी लिखे जाने का निर्देश दिया है, ताकि संथाली भाषा-भाषी जनता को कठिनाई नहीं हो और वे भी सुगमता से कार्यालयों/ विद्यालयों की पहचान कर सकें.

इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना से राज्य के 92 प्रतिशत कर्मगार होंगे लाभान्वित : रघुवर दास

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: