Jamshedpur

डॉक्टर अमित की मौत का मामला पुलिस के लिए बनी पहेली

Jamshedpur :  एमजीएम अस्पताल के डॉक्टर अमित कुमार की शुक्रवार को टीएमएच में इलाज के दौरान मौत हो गई. यह मामला घटना के दूसरे दिन भी पुलिस के लिए एक पहेली बनी हुई है. जांच का मुख्य बिंदु यही है कि डॉ अमित ने रिवाल्वर से खुद ही अपनी कनपट्टी पर गोली मारी तो क्यों मारी? क्या मामला आत्महत्या का है या दुर्घटना. पुलिस इसकी जांच में जुटी हुई है. पूरे मामले पर सरायकेला के एसपी आनंद प्रकाश नजदीकियों पर नजर रखे हुए हैं. उन्होंने गुरुवार को घटना के बाद भी टीएमएच पहुंचकर मामले का जायजा लिया था. साथ ही मामले की जांच कर रहे आदित्यपुर थाना प्रभारी राजेन्द्र महतो को कई जरुरी दिशा-निर्देश भी दिए.

शव के घर पहुंचते ही पूरा माहौल हुआ गमगीन

इधर शुक्रवार को जैसे ही डॉ अमित का शव आदित्यपुर एस टाइप स्थित आवास पहुंचा, वैसे ही पूरा माहौल गमगीन हो गया. घर की महिलाएं दहाड़ मारकर रोने लगी. इससे मौके पर मौजूद लोग भी अपनी आंखों से आंसू रोक नहीं सके.

advt

चिकित्सा जगत में भी शोक की लहर

इस घटना से शहर के चिकित्सा जगत में भी शोक की लहर है. सभी यही सवाल कर रहे हैं कि आखिर घटना घटी तो कैसे घटी. इसके पीछे क्या वजह रही होगी.

अंतिम यात्रा में शामिल हुए कई जाने-माने लोग

डॉ अमित की अंतिम यात्रा में परिवार के लोगों के अलावा क्षेत्र के कई जाने-माने लोग शामिल हुए. इसमें ईचागढ़ के पूर्व विधायक अरविंद सिंह, कांग्रेस नेता अवधेश सिंह, सुरेश धारी, ब्रजेश सिंह उर्फ टोंडी सिंह समेत अन्य शामिल थे. सभी ने नम आंखों से डॉ अमित को विदायी दी.

इसे भी पढ़ें-

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: