न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सुबोधकांत सहाय का आरोप,  संवैधानिक पद पर बैठे नरेंद्र मोदी ने तानाशाह का रूप ले लिया है

सहाय ने कहा, युवाओं को सरकारी नौकरी मिलने की बात तो बीजेपी शासन में समाप्त हो गयी है. पारा शिक्षकों को सीएम गुंडा कहते हैं.  आंगनबाड़ी, सेविका, सहायिकाओं का जीवन आज संकट में है.

135

Ranchi :  रांची से कांग्रेस प्रत्याशी सुबोधकांत सहाय ने गुरुवार को ईचागढ़ विधानसभा का दौरा किया.  श्री सहाय यहां पीएम मोदी और रघुवर सरकार पर जमकर बरसे. स्थानीय लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने किसानों, पारा शिक्षकों, शिक्षा के मुद्दे को जोरदार ढंग से उठाया. सुबोधकांत सहाय ने कहा कि  इनके शासन में सूखे से किसान लोग तो प्रभावित हुए ही, जो थोड़ा बहुत अनाज उत्पादित भी हुआ, उसका खरीदार भी नहीं मिला. औने-पौने दामों पर फसल की बिक्री से किसानों को काफी नुकसान हुआ. शिक्षा के क्षेत्र में तो इस सरकार ने लगभग 12,000 स्कूलों को बंद कर दिया.

युवाओं को सरकारी नौकरी मिलने की बात तो बीजेपी शासन में समाप्त हो गयी है. पारा शिक्षकों को सीएम गुंडा कहते हैं.  आंगनबाड़ी, सेविका, सहायिकाओं का जीवन आज संकट में है. स्थिति यह है कि आज देश के संवैधानिक पद पर बैठे नरेंद्र मोदी ने तानाशाह का रूप ले लिया है.

इसे भी पढ़ें – चतरा की पब्लिक ने भाजपा प्रत्याशी सुनील सिंह को खरी-खोटी तो सुनायी ही, रघुवर सरकार के काम की रिपोर्ट भी बता दी

hosp3

कई इलाकों का दौरा कर सुबोधकांत ने मांगा वोट

ईचागढ़ दौरे के क्रम में सुबोधकांत ने परगामा, जानुम, औडि़आ, सिरूम हॉट, कुकड़ू, इचाडीह, लेटमाडीह, फुलवारी, आदरडीह, तिरुलडीह, चौड़ा, मुंडा टोली, सोरो, तूता, सितू, टीकर बाजार, देवला टांड़, आमड़ा, नदीसाई, गुदड़ी, गोरांग कोचा, बांदू, पातकुम, लेपाटांड, चिमटीआ और मोईसारा आदि गांव में जनसंपर्क अभियान चलाया और चुनावी बैठक कर अपने पक्ष में लोगों से वोट की अपील की. इस दौरान कांग्रेस के साथ महागठबंधन में शामिल कई दलों के कार्यकर्ता भी थे.

इसे भी पढ़ें – पांच सालों में UPSC बहाली में 40% की गिरावट, IAS के 1459, IPS के 970 व IFS के 560 पद खाली

रोजगार देना दूर, इसे छीनने पर काम कर रही है बीजेपी

कांग्रेस प्रत्याशी सुबोध कांत सहाय ने कहा कि भाजपा झूठ की खेती करती है. वोट लेने के लिए पिछले चुनाव में वायदा किया था कि प्रतिवर्ष दो करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे. लेकिन बीजेपी ने अपने शासनकाल में 50 लाख लोगों की नौकरी ही छीन ली.  नोटबंदी के बाद बेरोजगार हुए लोगों पर ताजा रिपोर्ट ने यह साबित कर दिया कि मोदी सरकार में विकास का कोई काम नहीं हुआ.  नरेंद्र मोदी ने जीएसटी लगाकर भी छोटे व्यवसाय करने वाले दुकानदारों को भी चौपट कर दिया. उन्होंने मतदाताओं से अपील की कि भाजपा सरकार से मुक्ति पाने के लिए कांग्रेस को भारी मतों से विजयी बनायें.

जनसंपर्क अभियान में लोगों द्वारा मिल रहे सहयोग पर खुशी जताते हुए सुबोधकांत ने कहा कि बीजेपी सरकार के प्रति लोगों में कितनी नाराजगी है. यह  दिख रहा है. बेरोजगारी की स्थिति ने किस तरह विकराल रूप ले लिया है, इसका जीता जागता उदाहरण है चांडिल और ईचागढ़ का इलाका. बीजेपी सरकार के कार्यकाल में यहां के सभी उद्योग-धंधे बंद कर दिये, जिससे लोग बेरोजगार होने लगे. निवेश होने की बात कहकर मुख्यमंत्री रघुवर दास विदेश घूमते हैं, लेकिन आज निवेश तो दूर,घर की पूंजी को ही इस बीजेपी सरकार ने लूट लिया.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के उन उम्मीदवारों को जानिए जिनकी जीतने की संभावना है कम, लेकिन होंगे गेमचेंजर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: