BiharCourt News

पटना पुलिस का कारनामा, एक केस में आरोपी का नाम बदलकर दो बार भेजा जेल

कोर्ट ने संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने का दिया आदेश

Patna: पटना पुलिस का गुरुवार को बड़ा कारनामा सामने आया है. यहां की पुलिस ने एक केस में एक ही आरोपी को दो बार जेल भेज दिया है. हद तो तब हो गई जब आरोपी का नाम बदलकर उसके खिलाफ चार्ज सीट भी कोर्ट में दाखिल कर दी गई. कोर्ट में पुलिस का ये कारनामा सामने आया तो जज भी हैरान रह गये. जज ने आरोपी को तत्काल जेल से रिहा करने का आदेश दिया है.

Sanjeevani

पुलिस का ये कारनामा पटना में एनडीपीएस एक्ट की विशेष कोर्ट में सामने आया है. एनडीपीएस कोर्ट के जज मनीष कुमार द्विवेदी की कोर्ट में पटना पुलिस के इस कारनामे की शिकायत पहले ही की गयी थी. कोर्ट ने पटना एसएसपी से रिपोर्ट तलब की थी. विशेष कोर्ट ने पटना एसएसपी से पूछा था कि क्या फैजान तबरेज और लाल बाबू एक ही आदमी हैं.

MDLM

इसे भी पढ़ें:झारखंड के 17 लाख 53 हजार किसानों को मिला किसान सम्मान निधि का लाभ, खाते में आये 1100 करोड़ से अधिक रुपये

अगर ये दोनों नाम एक ही आदमी के हैं तो उन्हें पुलिस ने दो अलग-अलग नाम से गिरफ्तार कर क्यों जेल भेजा. फिर एक ही आदमी पर दो अलग अलग नाम से चार्जशीट क्यों कर दी.

कोर्ट के आदेश के बाद पटना के एसएसपी ने इस मामले पर अपनी जांच रिपोर्ट विशेष कोर्ट में दाखिल की है. रिपोर्ट में कहा गया कि अभियुक्त मो. फैजान तबरेज और लालबाबू एक ही आदमी हैं. उसके खिलाफ दर्ज मामले का अनुसंधान करने वाले पुलिस अधिकारी ने गलत चार्जशीट दायर किया है. पटना एसएसपी की रिपोर्ट से पुलिस के कारनामे का खुलासा हो गया.

इसे भी पढ़ें:मंत्री बन्ना गुप्ता का दावाः उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार तय

एसएसपी की रिपोर्ट के बाद एनडीपीएस एक्ट के विशेष न्यायाधीश ने गलत चार्जशीट दायर कर चल रहे मुकदमे की प्रक्रिया को बंद कर दिया. कोर्ट ने फैजान तबरेज नाम के व्यक्ति को तुरंत जेल से रिहा करने आदेश दिया है. पुलिस ने उसका नाम लाल बाबू बताकर उसे न्यायिक हिरासत में बेऊर जेल भेज दिया था.

विशेष कोर्ट ने डीजीपी और एसएसपी को इस बड़े आपराधिक मामले में इतनी बड़ी लापरवाही करने वाले पुलिस पदाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें:राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग तक पहुंचा रुपेश पांडेय हत्याकांड

Related Articles

Back to top button