National

वो कत्ल की रात होती, यदि विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान  वापस नहीं करता : मोदी

Ahmedabad : प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन को यदि पाकिस्तान पायलट वापस नहीं करता तो वह कत्ल की रात होती. गुजरात के पाटन में एक चुनावी रैली में पीएम मोदी ने अमेरिका का हवाला देते हुए कहा कि अगर पाकिस्तान पायलट वापस नहीं करता तो वह कत्ल की रात होती. बता दें कि गुजरात की सभी 26 लोकसभा सीटों पर तीसरे चरण के तहत 23 अप्रैल को मतदान होना है, जिसके लिए प्रचार का आज आखिरी दिन है.

Jharkhand Rai

पीएम मोदी का यह बयान उस घटना पर आधारित है, जिसमें भारत की एयरस्ट्राइक का जवाब देने आये पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों का पीछा करते हुए विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान सीमा पार चले गये थे और पाकिस्तानी सेना ने उन्हें पकड़ लिया था.

 इसे भी पढ़ें – पाक के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिरानेवाले विंग कमांडर अभिनंदन के लिए ‘वीर चक्र’ की…

मोदी अब कुछ बड़ा कर बैठेंगे

विंग कमांडर ने पाकिस्तान के लड़ाकू विमान को मार गिराया था. इसी बीच उनका मिग बाइसन छतिग्रस्त हो गया था. इसके बाद उन्हें पाकिस्तान में पकड़ लिया गया था. इस घटना के बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान के उच्चायुक्त को भी बाकायदा पायलट की सुरक्षा सुनिश्चित करने की चेतावनी दी थी. अब पीएम मोदी ने चुनावी रैली में इस मुद्दे को फिर से उठाया है. गुजरात की सभी 26 लोकसभा सीटों पर 23 अप्रैल को मतदान होना है.  आज अंतिम दिन पीएम मोदी ने यहां के पाटन में एक रैली को संबोधित करते हुए अमेरिका से आये एक बयान का हवाल दिया.

Samford

पीएम मोदी ने कहा, अमेरिका के उच्चपद पर बेठे ऐसे एक शख्स ने अपना बयान दिया था कि मोदी अब कुछ बड़ा कर बैठेंगे. उन्होंने कहा कि, मोदी ने एक साथ 12 मिसाइलें लगाई थीं. अमेरिका ने कहा था कि अच्छा था कि पाकिस्तान ने पायलट वापस कर दिया. वरना वह रात कत्ल की रात होती. यह तो अमेरिका ने कहा है. पायलट ऐसे ही वापस नहीं आया है.

 इसे भी पढ़ें – राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी  प्रमुख  शरद पवार को भी मोदी से डर लगने लगा है

बालाकोट में एयरस्ट्राइक कर आतंकियों के ठिकाने तबाह किये थे

सरदार पटेल की जमीन का बेटा वहां बैठा है इसलिए वापस आया है.बता दें कि 14 फरवरी 2019 को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आत्मघाती बम धमाके में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हुए थे. इस हमला का जवाब देते हुए भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी की रात पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक कर आतंकियों के ठिकाने तबाह किये थे.

भारत की इस कार्रवाई पर अगले ही दिन पाकिस्तानी वायुसेना ने 27 फरवरी की सुबह भारतीय सीमा में अपने लड़ाकू विमान भेजे थे, जिन्हें जवाब देते हुए भारतीय पायलट अभिनंदन पाकिस्तान की सीमा में चल गये थे,  जिन्हें वहां की सेना ने गिरफ्तार कर लिया था. भारत की ओर से दबाव पड़ने के साथ ही अभिनंदन को रिहा कर दिया था.

 इसे भी पढ़ें – पश्चिम बंगाल के हालात 15 साल पहले वाले बिहार जैसे : विशेष पर्यवेक्षक

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: