न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सक्रिय राजनीति में लौटे तेजप्रताप, विरोधियों पर चलाएंगे सुदर्शन चक्र !

793

Patna: आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रयाद के बेड़े बेटे और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव रविवार को राजनीतिक रुप से बड़े एक्शन में दिखे. पार्टी ऑफिस पहुंचकर उन्होंने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की और 2019 में विरोधियों को मुहतोड़ जवाब देने की बात कही. पत्नी ऐश्वर्या राय के खिलाफ तलाक की अर्जी दायर कर चुके तेजप्रताप ने कहा कि वो विरोधियों के खिलाफ वृंदावन से आर्शीवाद लेकर आये हैं. और अपने ‘सुदर्शन चक्र’ से विरोधियों को परास्त करेंगे.

पार्टी के अंदर और बाहर के विरोधियों को मिलेगा जवाब

राजद विधायक तेज प्रताप यादव रविवार को अचानक पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में नजर आए. उन्होंने युवा एवं छात्र शाखाओं के कार्यकर्ताओं से लंबी बातचीत की. इसके बाद घोषणा की कि वह सक्रिय राजनीति में वापस आ गये हैं. साथ ही कहा कि 2019 की तैयारियों में वो कोई कोर कसर नहीं छोड़ने वाले.

बिहार में बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टियों को अपना सबसे बड़ा विरोधी बताते हुए उन्होंने कहा कि विरोधियों पर अब उनका सुदर्शन चक्र चलेगा. साथ ही पार्टी के अंदर के विरोधियों को भी सबक सीखाने की बात की. प्रताप ने कहा कि वह पूरी तरह से अपने फॉर्म में है और अपने विरोधियों को जवाब देना उन्हें आता है. तेजप्रताप ने कहा कि जब से उनके विरोधियों को उनकी वापसी की खबर मिली है वह दुम दबाकर भाग खड़े हुए हैं.

पार्टी से कभी भी दूर नहीं होने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि मिशन 2019 को लेकर व पार्टी और संगठन की मजबूती के लिए काम करते रहेंगे. साथ ही अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव को अर्जुन बताने वाले तेजप्रताप यादव ने दो टूक कहा कि कृष्ण के बिना अर्जुन को कौन देखेगा और सफलता कैसे मिलेगी.

बता दें कि पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने की अर्जी देने के बाद से तेजप्रताप अपने घर राबड़ी आवास नहीं गये हैं. वो नीतीश सरकार से लगातार अपने लिए बंगले की मांग कर रहे हैं. हालांकि, अब तक उन्हें आवास नहीं मिला है. जिसपर उनका कहना है कि उनके साथ हो रहे बर्ताव को जनता देख रही है. तेजप्रताप यादव ने कहा कि वह किसी भी कीमत पर फिलहाल 10 सर्कुलर स्थित अपने घर नहीं लौटेंगे. घर जाने से ज्यादा जरुरी है जनता के बीच रहना.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: