NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पूर्व प्रधानमंत्री के निधन पर शोक संवदेनाओं का तांता, शहर से गांव तक दी गयी श्रद्धांजलि

सर्वदलीय शोक सभा में याद किये गये पूर्व पीएम वाजपेयी

328

Palamu: देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित पूर्व प्रधानमंत्री और जन-जन के नेता अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से समाज का हर तबका शोकाकुल है. गुरुवार शाम निधन की सूचना मिलने के बाद वाजपेयी के चाहनेवालों में शोक व्याप्त हो गया. शोक संवेदना देने का तांता लग गया. शहर के साथ-साथ गांवों में भी शोकसभा आयोजित कर श्रद्धांजलि अर्पित की गयी.

इसे भी पढ़ेंः पीएम मोदी के ब्लॉग से…’मेरे अटल जी’, अटल जी की स्थिरता मुझे झकझोर रही है…

सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा में याद किये गए वाजपेयी

भारत रत्न से सम्मानित और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद भारतीय जनता पार्टी द्वारा शुक्रवार को स्थानीय पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति हॉल में सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया. श्रद्धांजलि सभा में भाजपा नेताओं के अलावा, झारखंड विकास मोर्चा, आजसू, कांग्रेस, जदयू, लोजपा, व्यवसायी के अलावा शहर के गणमान्य लोग शामिल हुए. देश के प्रिये नेता को श्रद्धांजलि देने के लिए पूरा हॉल खचाखच भरा था. उपस्थित लोगों द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किये गये.

इसे भी पढ़ेंःराज्य के वरिष्ठ आईएएस का छलका दर्द, कहा- मंत्री गंभीर विषयों को सुनना ही नहीं चाहते

कार्यक्रम में पलामू के सांसद विष्णु दयाल राम ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन पार्टी के साथ-साथ देश के लिए अपूरणीय क्षति है. इस क्षति को निकट भविष्य में नहीं भरा जा सकता है. उन्होंने कहा जनसंघ के स्थापना काल से लेकर भाजपा को सर्वोच्च शिखर तक पहुंचाने में वाजपेयी जी का बहुत बड़ा योगदान था. बड़े पद पर रहने के बाद भी सादा जीवन जीने के आदी थे. उन्होंने कहा कि राजनीति में वाजपेयी जी जैसे नेता विरलय ही पैदा होते हैं. भाजपा का यह सौभाग्य है कि अटल बिहारी जैसा समर्पित, निष्ठावन व्यक्तित्व उसके पास था.

लोगों ने नम आंखों ने दी श्रद्धांजलि

छत्तरपुर विधायक राधाकृष्ण किशोर ने कहा कि वाजपेयी जी ने राजनीति में हमेशा लोगों को स्वच्छ और ईमानदार राजनीति करने की सीख दी थी. उनकी रिक्ता को नहीं भरा जा सकता है. मेदिनीनगर नगर निगम की महापौर अरूणा शंकर ने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी ने समाज को नयी दिशा दी है. उनकी कमी भारतीय राजनीति में हमेशा खलेगी. कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष नरेंद्र पांडेय ने की, जबकि संचालन विद्यानंद पाठक ने किया.

मौके पर भाजपा के प्रदेश मंत्री मनोज सिंह, श्याम नारायण दुबे, नीलू मिश्रा, अजय तिवारी, जिला परिषद उपाध्यक्ष संजय सिंह, जिप सदस्य प्रमोद सिंह, मीना गुप्ता, शिक्षाविद प्रो. एससी मिश्रा, प्रो. विजयकांत शुक्ला, प्रो. के.के मिश्रा, अविनाश वर्मा, डिप्टी मेयर मंगल सिंह, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष अमित तिवारी, लाल सूरज, दीप्ति शरण, रेणूका पांडेय, पूर्णिमा चंद्रवंशी, जदयू के वरिष्ठ नेता अध्यक्ष बलराम तिवारी और सुशील कुमार मंगल, लोजपा के धनंजय सिंह, झाविमो के जिला अध्यक्ष मुरारी पांडेय, कांग्रेस से पूर्व जिला अध्यक्ष चन्द्रशेखर शुक्ला, आजसू से जिला अध्यक्ष विकेश शुक्ला, वार्ड पार्षद में निरंजन प्रसाद, विवेकानंद त्रिपाठी, प्रदीक अकेला, हसबू निशां आदि उपस्थित रहे.

इसे भी पढ़ेंःवाजपेयी के निधन के बाद भावुक हुए मोदी, कहा- खो दिया पिता तुल्य संरक्षक

पांडू में निकाला गया कैंडल मार्च

जिले के पाण्डू प्रखंड अंतर्गत कजरु कलां में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर नवयुवक क्रांति संघ के सदस्यों द्वारा कैंडल मार्च निकालकर श्रद्धांजलि दी गयी. उनकी आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा. मुख्य बाजार स्थित अम्बेडकर चौक से लेकर महाजन टोला होते हुए पूरे गांव में कैंडल मार्च निकाला गया. कार्यक्रम में पंचायत के मुखिया, पंचायत समिति सदस्य एवं गांव के युवा वर्ग के साथ कई ग्रामीण भी मौजूद थे.

madhuranjan_add

अभिभावक संघ ने जताया गहरा शोक

अभिभावक संघ ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है. संघ अध्यक्ष सह अधिवक्ता किशोर कुमार पांडे ने कहा कि वे राजनेता नहीं बल्कि जन नेता थे. हमेशा पक्ष और विपक्ष दोनों को सम्मान करते थे और दोनों को लेकर चलने का प्रयास करते थे. श्री वाजपेयी के निधन पर संघ सचिव इंजीनियर आकाश कुमार सिंह नीलेश, बृजेंद्र सिंह बबलू, मुकीम अख्तर, संजय कुमार, सच्चिदानंद मिश्रा, दिलीप तिवारी, दीपक तिवारी, मनोज कुमार, सुरेंद्र राम, बिगन चंद्रवंशी और नवीन शुक्ला ने भी गहरी संवेदना व्यक्त की है.

पूर्व सैनिकों ने दी श्रद्धांजलि

अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद की पलामू इकाई द्वारा शोकसभा आयोजित कर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धा-सुमन अर्पित किये गये. वक्ताओं ने वाजपेयी जी के व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए उनकी भूरि-भूरि प्रशंसा की. उन्होंने कहा कि वह एक ऐसे राजनेता थे, जिन्हें किसी राजनीतिक पार्टी तक सीमित नहीं किया जा सकता था. वह सर्वमान्य और समाज के सभी वर्गों के लिए समान रूप से आदरणीय नेता थे. एक राजनेता के रूप में उनका व्यवहार और आचरण अनुकरणीय था. यह अटल जी का प्रभाव ही था, कि 22 पार्टियों की मिलीजुली सरकार का नेतृत्व करके उन्होंने सफलता पूर्वक देश का विकास किया.

कृषक मित्रों ने दी श्रद्धांजलि

भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर कृषक मित्रों ने भी शोक संवेदना व्यक्त की. डालटनगंज में श्रद्धांजलि देते हुए कृषक मित्र संघ के पलामू जिला अध्यक्ष रंजन कुमार दुबे ने कहा कि वाजपेयी जी के निधन से राष्ट्र ने एक ओजस्वी वक्ता, यशस्वी नेता और कुशल प्रशासक को खो दिया है. वाजपेयी जी के निधन से राष्ट्र को जो क्षति हुई है, उसकी निकट भविष्य में भरपाई करना संभव नहीं है.

अधिवक्ताओं ने दी श्रद्धांजलि

पलामू जिला अधिवक्ता संघ के तत्वावधान में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर दो मिनट का मौन रखा गया और ईश्वर से उनकी आत्मा की चिर शांति के लिए प्रार्थना की गयी. संघ के अध्यक्ष गिरिजा प्रसाद सिंह ने अध्यक्षता करते हुए कहा कि वाजपेयी जी न केवल कुशल प्रधानमंत्री, बल्कि कवि हृदय, निडर और देश के लिए प्रेरणास्रोत थे. महासचिव सुबोध कुमार सिन्हा ने सभा का संचालन करते हुए कहा कि वाजपेयी जी दल की सीमा से परे थे. वाजपेयी जी के निधन से राष्ट्रीय राजनीति में जो शून्यता आ गयी है, जिसकी भरपाई निकट भविष्य में संभव नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Averon

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: