Sports

तेंदुलकर ने एशिया कप में भारत की जीत पर कहा – टीम का प्रयास देखकर मुझे खुशी हुई

Mumbai : महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने यूएई में हुए एशिया कप में भारत की जीत की सराहना करते हुए रविवार को इसे पूर्ण टीम प्रयास करार दिया.

तेंदुलकर ने यहां संवाददाताओं से कहा, मैंने सभी मैच नहीं देखे. जब भी मैंने देखा, मुझे हमारे (भारतीय टीम) प्रदर्शन के तरीके पर खुशी हुई.

इसे भी पढ़ें ः टेरेसा ने फुटबाल विश्व कप की संयुक्त मेजबानी की बोली का किया समर्थन

ram janam hospital
Catalyst IAS

मैं पूरी टीम को श्रेय देता हूं : सचिन

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

उन्होंने कहा कि मैं पूरी टीम को श्रेय देता हूं. व्यक्तिगत खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया, कुछ खिलाड़ियों ने श्रृंखला में अच्छा प्रदर्शन किया और कुछ खिलाड़ी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए लेकिन अंतत: मैं कहूंगा कि टीम का प्रयास देखकर मुझे खुशी हुई.

सचिन आईडीबीआई फेडरल लाइफ इंश्योरेंस मुंबई हाफ मैराथन को हरी झंडी दिखाने के बाद संवाददाताओं से बात कर रहा था.

इसे भी पढ़ें ः भारत हॉकी में विश्व के सर्वश्रेष्ठ देशों में से एक : पाकिस्तान पूर्व कप्तान

टीम करे अच्छा प्रदर्शन

नियमित कप्तान विराट कोहली को आराम दिए जाने के कारण उनकी गैरमौजूदगी में भारतीय टीम की एशिया कप में सफलता के बारे में तेंदुलकर से पूछा गया था. रोहित शर्मा की अगुआई वाली भारतीय टीम ने फाइनल में बांग्लादेश को अंतिम गेंद पर तीन विकेट से हराकर खिताब जीता.

तेंदुलकर ने कहा, मैं सभी को बधाई देना चाहता हूं. अंतत: आप चाहते हैं कि टीम अच्छा प्रयास करे और टीम अच्छा प्रदर्शन करे. तेंदुलकर ने स्वस्थ भारत का समर्थन किया और प्रत्येक को फिट रहने की सलाह दी.

इसे भी पढ़ें ः 2019 के लोकसभा चुनाव में वीवीपैट (VVPAT) मशीनों का इस्तेमाल किया जायेगा

फाइनल मैच था दिल की धड़कन रोक देनेवाला 

एशिया कप का फाइनल दिल की धड़कन रोक देनेवाला रहा. पर आखिरकार भारत ने बांग्लादेश को तीन विकेट से मात दे दी. मैच अंतिम गेंद तक रोमांचक बना रहा. कुलदीप यादव और केदार जाधव की शानदार गेंदबाजी के बाद आखिरी ओवरों में संयमित बल्लेबाजी के दम पर भारत ने शुक्रवार को बेहद रोमांचक मुकाबले में आखिरी गेंद पर बांग्लादेश को तीन विकेट से हराकर सातवीं बार एशिया कप जीत लिया. बता दें कि जीत के लिए 223 रन के लक्ष्य के जवाब में भारत को आखिरी दो ओवर में नौ रन चाहिए थे, लेकिन 49वें ओवर में तीन ही रन बने, जिसके बाद आखिरी छह गेंद में छह रन की जरूरत थी. आखिरी गेंद पर लेग बाई से बने रन ने भारत को खिताब जितवाया.

Related Articles

Back to top button