न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्मार्ट सिटी में वेस्ट वाटर रीसाइक्लिंग व ड्रेनेज के लिए निकला टेंडर, 514.59 करोड़ होंगे खर्च

आठ मिलियन लीटर प्रति दिन की क्षमता का बनेगा सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

46

Deepak

Ranchi : झारखंड सरकार अब स्मार्ट सिटी में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट वर्क्स के नाम पर अब 514.59 करोड़ और खर्च करेगी. इसके लिए सरकार की झारखंड शहरी आधारभूत संरचना निगम (जूडको) की तरफ से निविदा आमंत्रित की गयी है. एचईसी कैंपस के समीप बन रहे स्मार्ट सिटी कैंपस में इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के नाम पर 2 लेन सड़क, वेस्ट वाटर सप्लाई पाइपलाइन, सिवर ट्रीटमेंट प्लांट, 100 किलोमीटर तक पावर केबुल बिछाने और कंप्यूटरीकृत रखरखाव व्यवस्था (स्काडा सिस्टम) विकसित की जायेगी. नगर विकास विभाग की एजेंसी जूडको को इसकी जवाबदेही सौंपी गयी है. योजना इंजीनियरिंग प्रोक्योरमेंट और कमिशनिंग (इपीसी) आधार पर दो वर्षों में पूरी की जायेगी.

एरिया बेस्ड डेवलपमेंट के नाम पर स्मार्ट सिटी का निर्माण 656.30 एकड़ में सरकार करना चाहती है. इसमें 338.55 एकड़ भूमि ओपेन स्पेश के नाम पर विकसित की जायेगी. न्यूजविंग की तरफ से स्मार्ट सिटी परिसर में 525 करोड़ से ज्यादा की लागतवाली सिवरेज-ड्रेनेज सिस्टम स्थापित करने का समाचार प्रमुखता से प्रकाशित किया गया था.

7.5 किलोमीटर तक ही वेस्ट वाटर रीसाइक्लिंग के लिए बिछेगा पाइप

नगर विकास विभाग की उपरोक्त योजना में स्मार्ट सिटी के 7.5 किलोमीटर तक की दूरी तक वेस्ट वाटर रीसाइक्लिंग के लिए पाइपलाइन बिछाया जायेगा. इन पाइपों का व्यास 160 से 230 मिमी होगा. इतना ही नहीं 10 किलोमीटर तक 150 मीमी व्यासवाले जलापूर्ति पाइपलाइन भी बिछाये जायेंगे. सरकार की तरफ से आठ मिलियन लीटर प्रति दिन की क्षमतावाला सिवेरज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) स्थापित किया जायेगा. गंदे पानी की सफाई के लिए भी रीसाइक्लिंग प्लांट लगाये जायेंगे. सिवरेज-ड्रेनेज की सारी व्यवस्था की निगरानी कंप्यूटरीकृत की जायेगी. इसके लिए डिजीटल पैनल, कंट्रोल वाल्ब, ब्लैक एंड वाटर फ्लो मीटर, प्रेसर ट्रांसमीटर और अन्य सुविधाओं का भी विकास किया जायेगा.

दो लेन की सड़क बनेगी

साथ ही परिसर में 2 लेन की सड़क भी बनायी जायेगी. राष्ट्रीय उच्च पथ की तर्ज पर 11 किलोमीटर तक का सड़क बनाने का भी प्रावधान किया गया है. इसके अलावा आंतरिक सड़क भी विभिन्न स्तरों पर बनाने का लक्ष्य तय किया गया है.

इसे भी पढ़ें – सिमडेगा मंडल कारा के प्रभारी अधीक्षक संजय को एनोस और मधु कोड़ा के बीच मुलाकात कराना महंगा पड़ा

इसे भी पढ़ें – झारखंड में पीएम मोदी की घोषनाएं और उनका हाल!

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: