न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तेजस्वी का तीखा तंज, कहा- क्या घोटाले करने के नाम पर मजदूरी मांग रहे हैं नीतीश

749

Patna : चुनाव प्रचार के दौरान जनता से काम की मजदूरी मांगने के नीतीश कुमार के बयान पर तेजस्वी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की. राजद के नेता एवं पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री से सवाल किया कि क्या वे मुजफ्फरपुर बालिका गृह, सृजन घोटाले या जनादेश का अपमान करने के नाम पर मजदूरी मांग रहे हैं ?

mi banner add

तेजस्वी ने ट्वीट किया कि नीतीश जी किस बात की मजदूरी माँग रहे है?’’ उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह में 34 बच्चियों के साथ हुए बलात्कार एवं उन दरिदों को बचाने, 2013 में भाजपा को छोड़ने या 2017 में 11 करोड़ लोगों के जनादेश का चीरहरण करने या सृजन घोटाला समेत 40 अन्य कथित घोटाले करने के नाम पर मजदूरी मांग रहे है? मुख्यमंत्री यह बताएं.

इसे भी पढ़ें- प्रधानमंत्री मोदी ने गांधीनगर में डाला वोट, कहा- आतंक से पावरफुल है लोकतंत्र

क्या था नीतीश का बयान

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में एक जनसभा में कहा था कि हम काम के आधार पर आपसे वोट मांगने आये हैं. पिछले 13 साल में जो मैंने काम किया है, आज उसकी मजदूरी मांग रहा हूं. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सबके लिए काम कर रही है.

वहीं, लालू प्रसाद की पार्टी पर निशाना साधते हुए नीतीश ने कहा था कि जनता ने 15 साल राजद को मौका दिया था, इस दौरान राजद ने क्या किया.

इसे भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव : तीसरे चरण के लिए मतदान शुरू, दांव पर राहुल गांधी व अमित शाह की किस्मत

राबड़ी का निशाना- नीतीश के तीर का जमाना खत्म

पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राबड़ी देवी ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश जी, लालटेन रोशनी और प्रकाश का प्रतीक है. तीर का जमाना समाप्त हो गया और अब मिसाइल का जमाना है.

इस तीर से कमल पर निशाना साधकर भाजपा से पुराना बदला चुका रहे हैं क्या ? उन्होंने कहा कि दोनों भाजपा और जद से बिहार की जनता ऊब गई है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार अपने भाषण में बोलते हैं कि लालटेन का जमाना चला गया है. लेकिन उन्हें नहीं पता है कि लालटेन विकास और उजाला का प्रतीक है.

राबड़ी ने कहा कि दिवाली में जिस घर में लालटेन और दिया जलता है, उस घर में सुख शांति होती है. नीतीश के तीर का जमाना खत्म हो गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: