Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू: बालिका गृह से फिर फरार हुई किशोरी, लॉकडाउन अवधि में भागने की तीसरी घटना

विज्ञापन

Palamu: पलामू जिला मुख्यालय मेदिनीनगर के बालिका गृह से एक बार फिर एक किशोरी भाग निकली है. शुक्रवार की सुबह छत के रास्ते तड़पकर किशोरी बालिका गृह से भाग निकली. किशोरी को गढ़वा सीडब्लूसी द्वारा पिछले दिनों लाया गया था. बालिका गृह के कर्मी और पुलिस किशोरी को ढूंढने में लगे हैं. बालिका गृह से केवल लॉकडाउन अवधि में लड़कियों के भागने की यह तीसरी घटना है.

गढ़वा की है किशोरी

बालिका गृह की वार्डन अंजली कुमारी ने बताया कि सुबह में पता चला कि एक किशोरी लापता है. पता करने पर मालूम हुआ कि गढ़वा के रंका से लायी गयी 16 वर्षीया किशोरी भाग गयी है. उन्होंने बताया कि किशोरी छत के सहारे तड़प कर भाग निकली है. चाहरदीवारी छोटी है. इस कारण उसे भागने में बल मिला.

ये भी पढ़ें- शादी का वादा कर दो वर्षों तक किया यौन शोषण, गिरिडीह महिला थाना में FIR

advt

वार्डन ने कहा कि इस संबंध में पुलिस और पलामू सीडब्लूसी को जानकारी दे दी गयी है. फिलहाल 20 बच्चियां बालिका गृह में हैं. यहां पलामू, गढ़वा और लातेहार से बच्चियों को लाकर रखा जाता है. उनके अलावा तीन अन्य स्टाफ यहां कार्यरत हैं. दो महिला पुलिसकर्मी और एक फोर्थ ग्रेड कर्मी कार्यरत है.

वार्डन को होगा शोकॉज

इधर, सीडब्लूसी के धीरेन्द्र कुमार भारती ने कहा कि घटना सामने आने के बाद वार्डन के माध्यम से इसकी जानकारी पुलिस को देने की बात कही गयी है. किसी कार्य से वे अभी बाहर हैं. उन्होंने माना कि लॉकडाउन अवधि में किशोरियों के बालिका गृह से भाग जाने की यह तीसरी घटना है.

ये भी पढ़ें-  गिरिडीह में कोरोना के 5 नए मामले , जामताड़ा में आईआरबी कैंप का एक जवान कोरोना पॉजिटिव

पिछली घटना के बाद बालिका गृह में महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती की मांग की गयी थी. इसके बाद दो महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती की थी, बावजूद ऐसी घटना सामने आयी. मामले में वार्डन से स्पष्टीकरण पूछा जाएगा.

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button