Education & CareerJharkhandRanchi

स्कूल में एक घंटा अतिरिक्त रुकने के आदेश का विरोध करेगा शिक्षक संघ

Ranchi : स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के सचिव राजेश शर्मा ने राज्य के सभी सरकारी विद्यालयों की समयावधि प्रतिदिन एक घंटा पंद्रह मिनट बढ़ा दी है. शनिवार को भी पूर्ण कार्य दिवस घोषित कर दिया गया है. इस बाबत विभाग द्वारा पत्र भी जारी कर दिया गया है. विभाग द्वारा कहा जा रहा है कि स्कूलों के समय मे परिवर्तन सहित अन्य निर्णय शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों के साथ हुई विचार विमर्श के बाद लिया गया है.

अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष बृजेंद्र चौबे, महासचिव राम मूर्ति ठाकुर, प्रवक्ता नसीम अहमद, वरीय उपाध्यक्ष अनूप केशरी, संगठन महामंत्री असादुल्लाह ने पत्र के इस अंश को भ्रामक और सच्चाई से कोसों दूर बताते हुए कहा है कि विद्यालय समय में परिवर्तन को लेकर विभाग द्वारा कभी भी शिक्षक प्रतिनिधियों से मशविरा न तो मांगा गया ना ही इसकी कोई जानकारी भी दी गई.

advt

इसे भी पढ़ें :Chandra Grahan: 580 वर्षों बाद आज शुरू हुआ सबसे लंबा चंद्र ग्रहण, जानें देश में कब-कहां और कितने बजे दिखेगा

फिर भी पत्र में इसे एक प्रमुख आधार बताया गया है, जिसका राज्य के शिक्षक पुरजोर विरोध करेंगे. संघ ने कहा है कि शिक्षा का अधिकार कानून में निर्धारित सालाना कार्यदिवस 220 और 200 दिनों के विरुद्ध वर्तमान में राज्य के विद्यालय साल में 252 दिन संचालित होते हैं,लेकिन इस तथ्य को गौण रखते हुए एवम देश के उत्कृष्ट सरकारी विद्यालय संस्थानों को व्यवस्था का अध्ययन किए बिना आनन फानन में आधारहिन तरीके से समयावधि में बदलाव किया गया है. इसे कतई उचित नहीं ठहराया जा सकता.

इसे भी पढ़ें :दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान AB de Villiers ने क्रिकेट को कहा अलविदा

21 नवंबर को आंदोलन की रूपरेखा

शिक्षक प्रतिनिधियों ने कहा है कि 21 नवंबर को रांची में आहूत अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के राज्य कार्यकारिणी की बैठक में विभाग के इस भ्रामक, औचित्यहिन और दोषपूर्ण आदेश के प्रतिरोध की रणनीति तय कर इसे वापस लेने की आवाज बुलंद की जाएगी.

इसे भी पढ़ें :Palamu: कृषि कानून वापस लेने पर मना जश्न, वामदलों ने की मांग- शहीद किसानों को मिले 50-50 लाख मुआवजा और नौकरी

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: