न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गिरिडीह : शिक्षक ने कुल्हाड़ी से की चाचा की हत्या, पिता व दो भाइयों के साथ गिरफ्तार

आरोप : शराब के नशे में घर पर गाली-गलौज कर रहा था अमर सिंह, तलवार से किया बड़े भाई पर वार

958

Giridih : शहर के कृष्णा नगर में प्रॉपर्टी को लेकर भाई-भतीजों में हिंसक झड़प हो गयी जिसमें भतीजे राहुल सिंह ने अपने चाचा अमर सिंह पर कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर उसकी हत्या कर दी.

हत्या करने के बाद बाद राहुल ने खुद पचंबा पुलिस के पास जाकर आत्मसमर्पण कर दिया, जबकि बोकारो भागने का प्रयास कर रहे राहुल सिंह के पिता चन्द्रशेखर सिंह व उसके दो अन्य बेटों सौरभ सिंह उर्फ किट्टु और राजशेखर सिंह उर्फ टुटु को पीरटांड पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

हत्याकांड का मुख्य आरोपी राहुल सिंह सिहोडीह के प्रकाशपुंज स्कूल का शिक्षक बताया जा रहा है. हत्या में इस्तेमाल एक कुल्हाड़ी के साथ एक तलवार को भी पचंबा थाना के पुलिस निरीक्षक सहदेव प्रसाद और थाना प्रभारी शर्मानंद सिंह ने बरामद कर लिया है.

इसे भी पढ़ेंःमानहानि मामले में अहमदाबाद की अदालत में पेश होंगे राहुल गांधी, आठ दिनों में तीसरी पेशी

रोते-बिखलते अमर सिंह के परिजन

मृतक की पत्नी के बयान पर केस

अमर सिंह हत्याकांड को लेकर पचंबा पुलिस ने मृतक की पत्नी रंजना सिंह उर्फ रजनी सिंह के फर्द बयान पर केस दर्ज कर लिया है. थाना कांड संख्या 108/19 में पुलिस ने मृतक के बड़े भाई चन्द्रशेखर सिंह के अलावे उसके तीनों बेटों सौरभ, राहुल और राजशेखर को जेल भेज दिया है.

मृतक की पत्नी रंजना सिंह व पिता जयंत सिंह इस घटना के पीछे प्रॉपर्टी विवाद बता रहे हैं. पचंबा पुलिस भी यही मानकर चल रही है.

इसे भी पढ़ें : घनश्याम अग्रवाल को टाउन प्लानर बनाने के लिए नगर विकास विभाग ने नहीं की नियमों की परवाह

 ‘शराब पीकर गाली-गलौज कर रहा था

Related Posts

आसनसोल : बच्चा चोरी के संदेह में महिला की पिटाई मामले में दस गिरफ्तार, तीन पुलिस रिमांड में

उच्च न्यायालय ने मामले पर सुनवाई करते हुए आरोपियों की पांच दिनों की रिमांड मंजूर कर उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया. 

हालांकि जयंत सिंह का यह भी कहना है कि अमर सिंह को शराब पीने की लत थी. उन्होंने शुक्रवार को बताया कि गुरुवार की देर रात अमर सिंह शराब पीकर घर आया  और शराब के नशे में गाली-गलौज करना शुरू कर दिया.

पुलिस के पूछताछ में मृतक के बड़े भाई और हत्याकांड के आरोपी चन्द्रशेखर ने भी कहा कि अमर सिंह शराब पीकर घर आता था, और शराब के नशे में चन्द्रशेखर समेत उसके बेटों के साथ गाली-गालौज किया करता था.

आरोपी भाई चन्द्रशेखर का कहना है कि गुरुवार की रात मारपीट की घटना के दौरान मृतक अमर ने तलवार से चन्द्रशेखर के हाथ पर गंभीर वार किया। इसके बाद मामला बिगड़ा, जिसमें मारपीट की घटना हत्या में तब्दील हो गयी. मृतक की पत्नी के दिये गये फर्द बयान को ही आधार मानकर पचंबा पुलिस मामले की जांच कर रही है.

बड़े भाई के हाथ पर तलवार से वार किया था

इधर मृतक की पत्नी रंजना सिंह ने पुलिस को दिये बयान में कहा कि उसके पति अमर सिंह गुरुवार की देर रात जब घर लौटे, तो अपने भतीजे सौरभ को बाजार में खिलाने के नाम पर बाहर ले जाने लगे. इस दौरान चन्द्रशेखर ने बेटे को ले जाने से मना कर दिया.

इसी बात पर दोनों भाइयों में जमकर बहसबाजी होने के बाद मामला मारपीट में बदल गया. इसमें आरोप है कि अमर ने तलवार से चन्द्रशेखर के हाथ पर वार किया जिसमें चन्द्रशेखर गंभीर रूप से जख्मी हो गया. इसके बाद चन्द्रशेखर ने उसी स्थिति में अमर को पीछे से दबोचा.

जबकि चन्द्रशेखर के बेटे राहुल ने कुल्हाड़ी से अमर सिंह के गर्दन में ताबड़तोड़ वार कर दिया. इससे मौके पर ही अमर की मौत हो गयी. इस दौरान रंजना सिंह भी बीच-बचाव करने आयी तो चंद्रशेखर (भैंसूर) ने धकेल दिया.

इसे भी पढ़ें : पलामू : बेतला घूमने आये रांची के टूरिस्ट सहित दो से 1.44 लाख की लूट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: