JharkhandRanchi

संशोधित समयावधि के विरोध एवम अन्य मांगों के लिए बनी शिक्षक समन्वय समिति

समन्वय समिति की पहली बैठक 5 दिसंबर को रांची में आहूत

Ranchi: राज्य के स्कूलों के लिए अनावश्यक एवम अव्यवहारिक रूप से बढ़ाई गई समयावधि को वापस लेने, राज्य के शिक्षकों के लिए सुनिश्चित वृति उन्नयन योजना लागू करने एवम अर्जित अवकाश की विसंगतियों आदि को लेकर राज्य के विभिन्न शिक्षक संघ एक मंच पर आये हैं. शिक्षक संघों की समन्वय समिति निर्माण को लेकर आज हुई ऑनलाइन मीटिंग में प्राथमिक, माध्यमिक, उच्चतर माध्यमिक और पारा शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों की ऑनलाइन संयुक्त मीटिंग हुई.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand : केंद्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन के आदेश पर 22 जिलों में झामुमो ने किया जिला समितियों का गठन

advt

आठ शिक्षक संगठनों की इस महती ऑनलाइन मीटिंग में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि ऑल झारखंड शिक्षक समन्वय समिति के संयुक्त बैनर तले संशोधित विद्यालय समय सारिणी को वापस लेने और प्राथमिक, माध्यमिक एवम उच्चतर माध्यमिक शिक्षकों के लिए सुनिश्चित वृति उन्नयन योजना लागू करने तथा अर्जितावकाश की विसंगतियों को दूर करने की मांग के लिए संगठित प्रयास किया जाएगा.

यह भी निर्णय लिया गया कि राज्य में शिक्षा और शिक्षक हितों को संरक्षित रखने हेतु यह समन्वय समिति कार्य करेगी, इस निमित 5 दिसंबर को पुनः रांची में बैठक आयोजित की जाएगी,

इसे भी पढ़ें : बागबेड़ा जलापूर्ति को लेकर झूठ बोल रही हैं मुखिया जी, चार दिनों के बाद भी नहीं हुआ उनका ‘कल’

आज की बैठक में अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष बृजेंद्र चौबे, महासचिव राम मूर्ति ठाकुर, उपाध्यक्ष रमेश प्रसाद, सलाहकार धीरज कुमार, मुख्य प्रवक्ता नसीम अहमद, बाल्मिकी कुमार, झारखंड प्लस टू शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष योगेंद्र प्रसाद ठाकुर, संरक्षक सुनील कुमार, झारखंड माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष गंगा प्रसाद यादव, झारखंड राज्य माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश महासचिव रविन्द्र प्रसाद सिंह, यशवंत विजय, जे पी एस सी प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष राज कृष्ण राज, सचिव कन्हैया ठाकुर, अल्पसंख्यक एवम सहायता प्राप्त विद्यालय शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष निरंजन सांडिल्य, झारखंड प्रगतिशील शिक्षक संघ के अध्यक्ष आनंद किशोर साहू और पारा शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष संजय दुबे शामिल हुए.

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: