JharkhandPalamu

पलामू: शिक्षक-BEO मारपीट मामला पहुंचा थाना, दोनों ओर से दर्ज कराई गई प्राथमिकी

Palamu. शिक्षक और शिक्षा व्यवस्था को लागू कराने वाले पदाधिकारी काफी सभ्य माने जाते हैं. लेकिन कभी कभी ऐसी घटनाएं सामने आ जाती हैं, जिससे दोनों की समाज में काफी किरकिरी होती है. पलामू जिले के हरिहरगंज में कुछ इसी तरह की घटना सामने आई है. शिक्षक और प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी के बीच शनिवार को विवाद के बाद आज इस सिलसिले में हरिहरगंज थाना में दोनों ओर से प्राथमिकी दर्ज कराई गई है.

क्या है मामला?

शनिवार को हरिहरगंज बीआरसी में अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रखंड अध्यक्ष सह प्रधानाध्यापक विजय राम, प्रभारी प्रधानाध्यापक संतोष कुमार राय, निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी कविलास मेहता, सहायक शिक्षक चंद्रदेव राम, मृत्युंजय कुमार सिंह, कृष्ण कुमार ठाकुर, दुर्गेश कुमार, नाथकुमार प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी सुबोध कुमार राय से शिक्षकों की समस्या पर बात करने गए थे, इसी बीच दोनों में विभागीय मामलों को लेकर पहले बहस हुई. बात इतनी बढ़ गई कि दोनों के बीच मारपीट हुई.

बीईईओ व शिक्षक ने एक दूसरे के खिलाफ दर्ज कराया मामला

हरिहरगंज प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी सुबोध कुमार राय के खिलाफ शिक्षक चंद्र देव राम ने मामला दर्ज कराया है. आरोप लगाया है कि समस्याओं को लेकर वार्ता के लिए जब वह अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रखंड अध्यक्ष सह प्रधानाध्यापक विजय राम, प्रभारी प्रधानाध्यापक संतोष कुमार राय, निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी कविलास मेहता, सहायक शिक्षक चंद्रदेव राम, मृत्युंजय कुमार सिंह, कृष्ण कुमार ठाकुर, दुर्गेश कुमार, नाथकुमार के साथ बीइइओ कार्यालय पहुंचे तो उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया. शिक्षकों को बैठने के लिए जगह नहीं दी गयी और न ही उनकी समस्याओं को सुना गया.

advt

फूफा ने की थी चार वर्षीय बच्चे की हत्या, बच्चे की मां से चल रहा था विवाद

उल्टे जाति सूचक शब्द कर गाली गलौज की गयी . जबकि अपनी समस्याओ को वे लोग शांतिपूर्ण तरीके से अवगत कराने के लिए पहुंचे थे. शिक्षक चंद्रदेव राम ने यह भी आरोप लगाया कि उनसे प्रभारी प्रधानाध्यापक बनाने के एवज में कुछ समय पहले 10 हजार रुपये की वसूली की गयी थी. लेकिन पैसा लेने के बाद भी प्रभारी नहीं बनाया गया. जब पैसे वापस करने की मांग की गयी तो बीइओ भड़क गये और दुर्व्यवहार पर उतारू हो गये. इधर बीइओ सुबोध कुमार राय ने भी सात शिक्षकों पर मामला दर्ज करा दिया है.

कोल कारोबारी से लेवी वसूलने वाला जेपीसी उग्रवादी बसंत गंझू अपने चार साथियों के साथ गिरफ्तार

उन्होंने आरोप लगाया है कि उनके कार्यालय में घुसकर उक्त शिक्षकों के द्वारा और असंसदीय भाषा का प्रयोग करते हुए गाली गलौज भी की गयी और उनके साथ मारपीट की गयी है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.

adv
advt
Advertisement

6 Comments

  1. Very good article! We are linking to this particularly great content on our site. Keep up the great writing.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button