BusinessJharkhandLead NewsRanchi

इनकम टैक्स और वेल्थ मैनेजमेंट से जुड़े कोर्स पर वन स्टॉप सॉल्यूशन उपलब्ध करा रहा Tax4Wealth

Ranchi: इनकम टैक्स और वेल्थ मैनेजमेंट से संबंधित सभी मसलों पर Tax4Wealth नाम कंपनी वन स्टॉप सॉल्यूशन उपलब्ध करा रही है. अपनी बेहतरीन सेवाओं की बदौलत कंपनी ने पूरे देश में शानदार यूजर्स बेस तैयार किया है. कंपनी ने इनकम टैक्स और वेल्थ मैनेजमेंट से जुड़े विषयों पर वीडियो आधारित इंटरैक्टिव प्लेफॉर्म तैयार किया है, जिससे हर रोज बड़ी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं. इसके संस्थापक देश के मशहूर सीए हिमांशु कुमार और सह संस्थापक हिमांशु कुमार हैं.

कंपनी ने कौशल विकास पाठ्यक्रम भी तैयार किये हैं, जिन्हें बेहतरीन रिस्पांस मिल रहा है. मौजूद औद्योगिक दौर की जरूरतों को देखते हुए तैयार किये गये पाठ्यक्रम दक्ष सीए- सीएस द्वारा तैयार किये गये हैं. हाल में कंपनी ने कोचिंग संस्थानों को अपने पोर्टल (व्हाइट लेबलिंग प्लेटफॉर्म) पर पाठ्यक्रम उपलब्ध कराना शुरू कर दिया है.

कंपनी अपने डोमेन से शिक्षण संस्थानों को बिना किसी निवेश के जुड़ने और अपने व्यवसाय को बढ़ाने का अवसर दे रही है. कंपनी की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि वह चैनल भागीदारों को 360 डिग्री समाधान प्रदान करती है.

इसे भी पढ़ें:दवा नहीं दारू की होम डिलवरी कराने पर उतारू है सरकार : दीपक प्रकाश

कंपनी की ओर से नवोदित सीए, सीएस, सीएमए आदि के लिए जीएसटी, आयकर, टीडीएस, आयकर रिटर्न और प्रारंभिक पाठ्यक्रमों में कौशल आधारित व्यावहारिक पाठ्यक्रमों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है.

कंपनी सर्टिफाइड कॉरपोरेट अकाउंटेंट कोर्स भी उपलब्ध करा रही है जो इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के इच्छुक युवाओं को बेहतरीन करियर अवसर प्रदान करती है. टैली, जीएसटी, इनकम टैक्स में सर्टिफाइड कॉरपोरेट अकाउंटेंट कोर्स वन स्टॉप सॉल्यूशन प्रदान करता है.

इसे भी पढ़ें:JSSC : अप्रैल के पहले सप्ताह में होगी सामान्य स्नातक योग्यताधारी संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा, एग्जामिनेशन कैलेंडर जारी

टैक्स फोर वेल्थ कंपनी इनकम टैक्स और वेल्थ मैनेजमेंट से संबंधित वीडियो-आधारित मैटेरियल उपलब्ध कराने के लिए एक इंटरैक्टिव प्लेटफॉर्म है. जो यूजर फ्रेंडली मैटेरियल तैयार करती है. कंपनी के संचालक की माने तो वे कौशल विकास को लेकर कोर्स तैयार कर रहे हैं जिससे कि अपने कार्य कौशल को बढ़ाया जा सकता है.

साथ ही बताया कि कोर्स इंडस्ट्री की आवश्यकताओं के अनुसार विकसित किया गया है. वहीं कोर्स को तैयार करने में सीए और सीएस का रोल भी अहम है. उन्होंने कहा कि हाल ही में हमने कोचिंग संस्थानों को अपने मैटेरियल पोर्टल (व्हाइट लेबलिंग प्लेटफॉर्म) पर बेचने का अवसर प्रदान किया है.

इसे भी पढ़ें:आदर्श स्कूल प्रोजेक्ट : बच्चों को स्मार्ट बनाने के लिए प्रधानाध्यापकों और शिक्षकों को मिल रही ट्रेनिंग, अब तक 176 की ट्रेनिंग पूरी

आने वाले सीए, सीएस, सीएमए के लिए जीएसटी, आयकर, टीडीएस, आयकर रिटर्न और प्रारंभिक कोर्स के लिए भी हम बेहतर मैटेरियल उपलब्ध कराने की तैयारी में है.

कॉर्पोरेट एकाउंटेंट कोर्स फ्लेक्सीबिलिटी का अवसर प्रदान करता है, क्योंकि विशेषज्ञों की हमारी टीम प्रैक्टिकली और साइंटीफिक तरीके से डिज़ाइन किए गए कोर्स के साथ वन स्टॉप सॉल्यूशन प्रदान करती है.

इसे भी पढ़ें:सचिवालय के चार प्रशाखा पदाधिकारी व 11 एएसओ का तबादला

Advt

Related Articles

Back to top button