BusinessChaibasaJamshedpurJharkhand

Tata Steel ने पहली तिमाही की रिपोर्ट जारी की, घरेलू बाजार में क्रूड स्टील के उत्पादन में 6 फीसदी की हुई बढ़ोतरी, डिलीवरी में मामूली गिरावट

Jamshedpur : टाटा स्टील ने मंगलवार को वित्तीय वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही के उत्पादन और डिलीवरी की रिपोर्ट जारी की. कंपनी ने सेबी के नियमों के तहत इसकी जानकारी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज को दी है. रिपोर्ट के अनुसार पहली तिमाही में टाटा स्टील इंडिया क्रूड स्टील का उत्पादन 4.92 मिलियन टन रहा, जो पिछले साल की इसी तिमाही से छह फीसदी ज्यादा है. वित्तीय वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में टाटा स्टील इंडिया के क्रूड स्टील का उत्पादन 4.63 मिलियन टन रहा था. लेकिन डेलीवरी यानि वितरण में पिछले साल की पहली तिमाही के मुकाबले 2 फीसदी की गिरावट आई है. इस साल की पहली तिमाही में वितरण 4.06 मिलियन टन रहा है, जो पिछली तिमाही में 4.15 मिलियन टन था. निर्यात में 15 फीसदी के एक्सपोर्ट ड्यूटी लागू होने के चलते डिलीवरी में कमी आई है.

हालांकि कंपनी ने अपने मजबूत मार्केटिंग नेटवर्क और चुस्त-दुरुस्त का लाभ उठाकर घरेलू डिलीवरी में तेजी लाई है. घरेलू डिलीवरी में 5 फीसदी की बढ़ोतरी दिखी है. ऑटोमोटिव और स्पेशल प्रोडक्ट्स’ सेगमेंट की डिलीवरी में व्यापक आधार वाली रिकवरी पर साल-दर-साल 22 फीसदी की वृद्धि हुई. ‘ब्रांडेड उत्पाद और खुदरा’ खंड की डिलीवरी मोटे तौर पर समान रही. टाटा टिस्कॉन ने अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है. ‘औद्योगिक उत्पाद और परियोजनाएं’ खंड की डिलीवरी में 8 फीसदी की साल-दर-साल वृद्धि हुई. इसकी मुख्य वजह इंजीनियरिंग सरीखे मूल्य वर्धित उत्पादों की बिक्री रही. इस तिमाही के दौरान टाटा स्टील आशियाना ने व्यक्तिगत घर के लिए एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से 77 फीसदी ज्यादा राजस्व कमाया. यह राजस्व 457 करोड़ रहा.

ये भी पढ़ें- कुलपति से ज्यादा आरोपपति रहे हैं गंगाधर पंडा, पत्नी और बेटे की नियुक्ति में भी धांधली करने का लगा आरोप

Related Articles

Back to top button