न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नकली प्रोडक्‍ट बेचने के मामले में टाटा स्‍टील ने गुजराती कंपनी पर दर्ज करायी प्राथमिकी

‘टाटा’ ट्रेड मार्क के दुरूपयोग का आरोप

51

Jamshedpur: टाटा विरोन के नाम पर नकली वायर प्रोडक्ट बाजार में बेचने वाली मेहसाणा जिले में चलने वाली उमिया वायर फैक्ट्री के खिलाफ टाटा स्टील ने गुजरात के मेहसाणा पुलिस स्टेशन में प्राथमिकी दर्ज करायी है. गुजरात के मेहसाणा जिले में चलने वाली उमिया वायर फैक्ट्री टाटा के नाम पर अपना वायर प्रोडक्ट बेच रही थी.

इसे भी पढ़ें: जेटेट पास अभ्यर्थियों की आंखों में धूल झोंक रही है सरकार: पारा शिक्षक

पुलिस ने की छापामारी

टाटा स्टील के द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद पुलिस ने वायर फैक्ट्री में छापामारी की. छापामारी में पता चला कि यह कंपनी टाटा विरोन नाम से ना केवल अपना वायर प्रोडक्ट बेच रही है, बल्कि टाटा विरोन बंडल, टाटा स्टील विरोन मार्क्स और गेज को भी बाजार में बेच रही है.

इसे भी पढ़ें – न्यूज विंग ब्रेकिंग: झारखंड में फाइनांशियल क्राइसिस! ट्रेजरी में सिर्फ 200 करोड़, ठेकेदारों और आपूर्तिकर्ताओं की देनदारी महीनों से बंद

टाटा के ट्रेडमार्क का गलत इस्तेमाल का आरोप

टाटा स्टील का कहना है कि भारतीय कंपनी अधिनियम 1913 के तहत टाटा संस और टाटा से संबंधित ब्रांड की कॉपीराइट और ट्रेडमार्क का इस्तेमाल का अधिकार उनके पास है. पिछले दिनों जब टाटा को सूचना मिली कि गुजरात की दो कंपनियां उनके ट्रेडमार्क टाटा का गलत इस्तेमाल कर रही हैं. इसके बाद कंपनी ने मेहसाना पुलिस के साथ मिलकर 14 नवंबर को कंपनी में छापेमारी की. तब वहां से फर्जी ब्रांडेड वायर और स्टील की बड़ी खेप पकड़ी गई थी. गुजरात के मेहसाणा जिले में चलने वाली उमिया वायर और उमिया स्टील के द्वारा टाटा के नाम पर गलत प्रोडक्ट बेचने के मामले में टाटा ने दोनों कंपनियों के खिलाफ कॉपीराइट्स और ट्रेडमार्क की धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: