AutomobilesJamshedpurJharkhand

Tata Motors wage Agreement: समय पर बोनस करने पर 20 हजार का साइनिंग बोनस, बेसिक में 6618 और फिक्स्ड 14 हजार रुपए का इजाफा, ये रही पूरी जानकारी

Jamshedpur: टाटा मोटर्स जमशेदपुर का वेतन समझौता शनिवार को हो गया. ग्रेड के इतिहास में पहली बार समय पर हुए इस समझौते में कई बुनियादी बदलाव किए गए हैं. ग्रेड की अवधि को तीन साल की बजाय चार साल कर दिया गया है. साथ ही कोशिश की गई है कि पुराने और नये (जेओ) ग्रेड के बीच के वेतन के अंतर को कम किया जाय. जेओ ग्रेड के तहत स्थायी होने वाले कर्मियों के कम वेतन को देखते हुए यूनियन और प्रबंधन ने इस बार नये-पुराने दोनों ग्रेड के कर्मियों के वेतन में फिक्स्ड 14 हजार रुपए तक की बढ़ोतरी की है, जिसका भुगतान अगले चार साल में किस्तवार होगा.

टाटा मोटर्स वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष गुरमीत सिंह तोते और महामंत्री आरके सिंह ने शनिवार शाम यूनियन कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बदलते दौर के साथ नियोजन के साथ ही रोजगार सृजन पर भी हमने जोर दिया है. कोरोना काल में जब सारी कंपनियां कर्मचारियों की छंटनी कर रही थी, उस वक्त में भी टाटा मोटर्स ने अपने कर्मचारियों का स्थायीकरण किया. उन्होंने बताया कि चार साल के लिए (2022-2026) अवधि के लिए हुए इस समझौते में प्रगति नाम से नई योजना हमने शुरू की है. इसके तहत टाटा मोटर्स में काम करने वाली कर्मी डिप्लोमा और डिग्री हासिल कर न केवल अपनी योग्यता और दक्षता को बढ़ा सकते हैं बल्कि बेहतर नियोजन पा सकते हैं. यही नहीं टाटा विभिन्न कॉलेजों से इंजीनियरिंग करने वाले टाटा मोटर्स कर्मचारियों के बेटे-बेटियां भी अब जीईटी में जा सकेंगे. इसके लिए प्रबंधन परीक्षा लेगा. हमारी कोशिश है कि टाटा मोटर्स कर्मियों के साथ ही उनके बच्चों को भी बेहतर नियोजन मिल सके. इस ग्रेड का लाभ टाटा मोटर्स के 6600 स्थायी कर्मचारियों के साथ ही 3600 बाई सिक्स कर्मियों को मिलेगा. बढ़ी हुई वेतन की राशि पहले साल 65 फीसदी, दूसरे साल 15 फीसदी और तीसरे-चौथे साल 10-10 फीसदी मिलेगी.

जानिए ग्रेड की अहम बातें

Sanjeevani

1.बेसिक में 6618 रुपए की बढ़ोतरी-कर्मचारियों के बेसिक वेतन में 6618 रुपए की बढ़ोतरी की गई है. पिछली बार यह 4400 के करीब था.
2.ग्रेड की अवधि अब चार साल-इस बार ग्रेड की अवधि को बढ़ाकर तीन साल से चार साल कर दिया गया है. यूनियन का मानना है कि टाटा समूह की ही कंपनियों में ग्रेड की मियाद सात साल तक हो गई है.
3.फिक्स्ड वेतन में 14 हजार की बढ़ोतरी-कर्मचारियों के फिक्स्ड वेतन में 14 हजार रूपए तक की बढ़ोतरी की गई है. इसके अलावा तीन हजार वेरिएबल पे होगा. यह बढ़ोतरी नये और पुराने ग्रेड में समान की गई है.
4.बाई सिक्स कर्मियों के वेतन में चार हजार की बढ़ोतरी-इस ग्रेड में बाइ सिक्स कर्मियों के वेतन में चार हजार रूपए की बढ़ोतरी की गई है.
5.20 हजार का साइनिंग बोनस-पहली बार ग्रेड में समय पर बोनस करने पर 20 हजार का एकमुश्त साइनिंग बोनस कर्मचारियों को मिलेगा.

इन्होंने किया समझौता
इस हस्ताक्षर समारोह में वीपी ऑपरेशंस, सीवीबीयू एबी लाल, वीपी (एचआर) सीताराम कांडी और सीवीबीयू एचआर हेड- विश्वरूप मुखर्जी के साथ ही टाटा मोटर्स जमशेदपुर प्लांट हेड विशाल बादशाह, श्रीनिवासन पी-हेड एचआर, दीपक कुमार- हेड ईआर और अन्य वरिष्ठ प्रबंधन अधिकारियों के साथ टाटा मोटर्स वर्कर्स यूनियन के महामंत्री आर के सिंह और अध्यक्ष गुरमीत सिंह तोते, उप श्रम आयुक्त राजेश प्रसाद समेत सारे यूनियन पदाधिकारियों ने हस्ताक्षर किया.

किसने, क्या कहा-
टाटा मोटर्स वर्कर्स यूनियन और कर्मचारियों को ऐतिहासिक दीर्घकालिक समझौते के लिए मेरी हार्दिक बधाई. मैं संगठन के विकास के प्रति उनके सहयोग, समर्थन और सकारात्मक दृष्टिकोण के लिए यूनियन की सराहना करता हूं. मैं जमशेदपुर की पूरी टीम को आने वाले वर्षों में सबसे अच्छी और पूरी सफलता की कामना करता हूं.
– विशाल बादशाह, टाटा मोटर्स के प्लांट हेड
मैं प्रबंधन और यूनियन दोनों को समय पर और बहुत ही सौहार्दपूर्ण तरीके से दीर्घकालिक वेतन समझौते पर पहुंचने के लिए बधाई देता हूं. यह समझौता कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों के बीच खुशी और सद्भावना लाएगा. मैं जमशेदपुर प्लांट की सफलता की कामना करता हूं और टीम से वर्षों से बनाए गए आपसी सहयोग और विश्वास को मजबूत करने का आग्रह करता हूं.
-एबी लाल

 

Related Articles

Back to top button