BusinessChaibasaJamshedpurJharkhand

जल्द ही बीएस-7 इंजन बनाएगा टाटा कमिंस, इलेक्ट्रिकल और गैस इंजन में तब्दील हो जाएगा डीजल इंजन

ग्रेड के सेमिनार में नहीं पहुंचे दो सस्पेंडेड यूनियन नेता, चर्चा का बाजार रहा गर्म

Jamshedpur: टाटा कमिंस में ग्रेड को लेकर मंगलवार को ट्यूब मेकर्स क्लब में हुए सेमिनार में प्लांट हेड रामफल नेहरा ने कंपनी की चुनौतियों के बारे में बताया. उन्होंने बताया कि कंपनी की चुनौती इंजन को बीएस-6 से बीएस-7 लेवल पर ले जाने के साथ ही डीजल इंजन को इलेक्ट्रिकल और गैस इंजन में बदलने का रहेगा. उन्होंने अगले दस साल की चुनौतियों पर बोलते हुए कहा कि आने वाले दिन में तकनीक स्तर पर कंपनी का तेजी से विकास होगा. प्लांट के ऑटोमेशन से लेकर पर्यावरण के मानदंडों पर खरा उतरने के लिए कई आमूल चूल बदलाव करने होंगे. मौके पर एचआर हेड मनीष जैन भी मौजूद थे. इस बार के सेमिनार में पुणे से कोई वरीय अधिकारी नहीं आया.
बेहतर वेज कराने का प्रयास रहेगा-दिप्तेन्दू
टाटा कमिंस कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष दिप्तेन्दू चक्रवर्ती ने कहा कि यूनियन की कोशिश रहेगी कि बेहतर वेज कराया जाय. मौके पर वायस कलेक्शन के जरिए आए कर्मचारियों के सुझावों पर भी चर्चा हुई. ग्रेड को तीन साल के लिए कराने के साथ ही वार्ड इम्प्लाई के नियोजन और टाटा स्टील की तर्ज पर मेडिकल सुविधा देने पर भी चर्चा हुई. लगभग 23 बिन्दुओं पर सेमिनार में विचार हुआ.
इन बिन्दुओं पर हुआ विचार
1.गेन शेयरिंग को 29 फीसदी से 40 फीसदी किया जाय
2.मल्टी स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में मेडिकल सुविधा मिलें
3.एजुकेशन लोन पर सब्सिडी मिलें
4.कंपनी में स्थायी और एफटीसी का अनुपात 50-50 फीसदी रहे
5.वार्ड रजिस्ट्रेशन को शुरू किया जाय
6.रिटायरमेंट के बाद भी मेडिकल सुविधा मिलें
7.डीए प्वाइंट को रिवाइज किया जाय
8.ब्लकॉ क्लोजर और फ्लेक्सी ऑफ का अनुपात 3-1 हो
9.ग्रेड की अवधि तीन साल हो
10.लेट पंच 10 मिनट से बढ़ाकर 30 मिनट किया जाय
11.नाइट शिफ्ट एलाउंस में बढ़ोतरी हो
12.बोनस समझौता समय पर हो
13.रिटायरमेंट के बाद पेंशन की सुविधा मिलें
14.पीएल से संडे को बाहर किया जाय
15.हॉस्पिटल के लिए क्रेडिट कार्ड सुविधा हो
सस्पेंडेड यूनियन कमेटी मेंबर्स नहीं दिखे सेमिनार में
इस सेमिनार में कंपनी से सस्पेंडेड चल रहे दो कमेटी मेंबर कामेश्वर पांडेय और रंजन पांडेय सेमिनार में नहीं दिखे. इसे लेकर दिन भर चर्चा का बाजार गर्म रहा कि सेमिनार में यूनियन ने इन्हें क्यों नहीं बुलाया. जबकि नई टीम की जीत के बाद प्रबंधन की ओर से हुए सेमिनार में ये दोनों नेता मौजूद थे.

ये भी पढ़ें- Tata Steel AGM: सालाना आमसभा में टाटा स्टील का बजा डंका, चेयरमैन ने कहा-पिछले वित्तीय वर्ष में टाटा स्टील का ऐतिहासिक प्रदर्शन रहा, विस्तारीकरण जारी रहेगा, प्रति शेयर 51 रूपए लाभांश मिलेगा

Related Articles

Back to top button