AutomobilesBusinessJamshedpurJharkhand

Tata Motors के बाद Tata Cummins ने भी क्लोजर की घोषणा की, 29 जून से लेकर एक जुलाई तक कंपनी रहेगी बंद

Jamashedpur: टाटा मोटर्स के बाद सोमवार को टाटा कमिंस ने भी तीन दिन क्लोजर करने की घोषणा कर दी. टाटा कमिंस के प्लांट हेड की ओर से जारी सर्कुलर के अनुसार उत्पादन में कमी के बाद टाटा कमिंस के जमशेदपुर प्लांट में 29-30 जून और एक जुलाई को क्लोजर रहेगा. टाटा कमिंस ने पिछले सप्ताह भी तीन दिन का क्लोजर लिया था. टाटा मोटर्स के क्लोजर के बाद कमिंस को भी बार-बार क्लोजर लेना पड़ रहा है. टाटा मोटर्स को टाटा कमिंस, इंजन बनाकर सप्लाई करता है. ऐसे में टाटा कमिंस की निर्भरता टाटा मोटर्स पर होती है.

वैसे टाटा मोटर्स के जमशेदपुर प्लांट ने तीन दिन के क्लोजर के बाद फिर दो दिन क्लोजर करने का फैसला लिया है. टाटा मोटर्स में 28-29 जून को क्लोजर रहेगा. 30 जून को कंपनी खुलेगी. लेकिन बताया जा रहा है कि जुलाई माह में भी कंपनी का उत्पादन कम रहने वाला है क्योंकि वाहनों की डिमांड नहीं है. मंदी की आहट के चलते वाहनों की डिमांड में आई कमी के बाद कंपनी को बार-बार क्लोजर लेना पड़ रहा है. रविवार 26 जून को साप्ताहिक छुट्‌टी थी. सोमवार 27 जून को एक दिन का काम हुआ.
बाई सिक्स कर्मी को जून में मिलेगा कम वेतन
जून माह में क्लोजर होने के बाद बाई सिक्स कर्मियों को इस माह का वेतन कम मिलेगा, क्योंकि क्लोजर के दौरान बाई सिक्स कर्मियों को वेतन नहीं मिलता. कंपनी में लगभग पांच हजार बाई सिक्स कर्मी है. कुछ ही कर्मियों को काम पर बुलाया जा रहा है. कंपनी की सारी एसेंबली लाइन से लेकर प्लांट वन पूरी तरह से बंद है.
क्लोजर का असर कर्मचारियों की छुट्‌टियों पर
क्लोजर के दौरान स्थायी कर्मचारियों का आधा वेतन कंपनी वहन करती है जबकि आधा वेतन कर्मचारियों के सीएल और पीएल से एडजस्ट होता है. इससे कर्मचारियों की छुट्‌टी की हानि होती है.

ये भी पढ़ें- India’s Most Haunted Railway Station : रांची से 90 किमी दूर है एक रेलवे स्टेशन जहां ट्रेन से रेस लगाती है एक प्रेतात्मा

ram janam hospital
Catalyst IAS

Related Articles

Back to top button