Ranchi

फिर टला वेंडर मार्केट को बसाने का काम, अब सात मार्च को लॉटरी से होगा आवंटन

Ranchi : कचहरी रोड में बने अटल स्मृति वेंडर मार्केट में फुटपाथ दुकानदारों को बसाने की घोषणा एक बार फिर लटक गयी. अब लॉटरी के माध्यम से इस मार्केट में दुकानदारों को बसाने का दावा निगम के अधिकारी कर रहे हैं. लॉटरी सात मार्च को मार्केट परिसर में की जायेगी. इससे पहले नगर आयुक्त मनोज कुमार के दिये निर्देश के बाद भी मंगलवार को इन दुकानदारों ने मार्केट में प्रवेश नहीं किया. हालांकि, इसके पीछे का तर्क यहां पेयजल और बिजली की व्यवस्था नहीं होने को बताया गया है. लेकिन, हकीकत यह है कि किस दुकानदार को कौन सी दुकान मिली है, इसकी जानकारी नहीं होने से ये दुकानदार नाराज हैं. इसे देख अब निगम ने फैसला किया है कि सात मार्च को लॉटरी द्वारा दुकानदारों को दुकान दी जायेगी.

इसे भी पढ़ें- रांची नगर निगम में सफाई के नाम पर 10 लाख रुपये का घोटाला

मंगलवार तक ‘प्रवेश’ का मिला था निर्देश

मालूम हो कि करीब चार दिन पहले नगर आयुक्त ने विज्ञापन के जरिये निर्देश निकाला था. निर्देश में उन्होंने कहा था कि मंगलवार (पांच मार्च) तक सभी दुकानदार मार्केट में अपने साजो-सामान के साथ प्रवेश करना सुनिश्चित करेंगे. मंगलवार को ही एक स्थानीय अखबार में खबर छपी थी कि वेंडर मार्केट में बिजली का कनेक्शन और दुकानदारों का स्थल तय नहीं हो सका है. ऐसे में ये दुकानदार मार्केट के भीतर प्रवेश तब तक नहीं करेंगे, जब तक उन्हें सही तरीके से दुकान आवंटित न कर दी जाये. दुकानदारों के विरोध के बाद अब अधिकारियों ने कहा है कि अटल स्मृति वेंडर मार्केट में फुटपाथ दुकानदारों के बीच दुकानों का आवंटन सात मार्च को लॉटरी के माध्यम से होगा. इसके लिए चयनित फुटपाथ दुकानदारों को मार्केट में उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया है. लॉटरी के दौरान मार्केट परिसर में टाउन वेंडिंग कमिटी के सारे सदस्यों सहित नगर निगम के अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे.

advt

इसे भी पढ़ें- 91 शराब दुकानों की नीलामी में आधे से अधिक पर शाहाबादी समूह का कब्जा

जहां मिलेगी दुकान, वहीं करना होगा व्यवसाय

लॉटरी से किये जानेवाले दुकान आवंटन के दौरान मार्केट में दुकानदारों को स्वयं पर्ची निकालनी होगी. इस दौरान जिसके हाथ से जिस दुकान की पर्ची निकलेगी, उसे वही दुकान आवंटित की जायेगी. निगम के सिटी मैनेजर विकास कुमार ने बताया कि आवंटन को लेकर निगम ने लॉटरी की तैयारी की है. तैयारी के तहत मार्केट के प्रत्येक तल्ले पर इसके तहत एक स्लॉट में एक ही प्रकार का व्यवसाय करनेवाले दुकानदारों को दुकान उपलब्ध करायी जायेगी.

इसे भी पढ़ें- चमेली झरना पत्थर उत्खनन मामले में 4 गिरफ्तार, 12 के खिलाफ केस दर्ज

पहले का एक मार्केट हो चुका है बर्बाद

इससे पहले भी राजधानी के हरमू बाजार में एक वेंडर मार्केट बना था. आज इसकी स्थिति क्या है कि इसकी जानकारी लेने शायद ही कोई जनप्रतिनिधि यहां आते हैं. हरमू हाउसिंग बोर्ड स्थल पर बने इस मार्केट में एक हॉल के अलावा कई दुकानें बनायी गयी थीं. हकीकत यह है कि मार्केट को पूरी तरह से नहीं बसाया जा सका है. आज भी हरमू के इस इलाके में रोड पर ही सब्जी विक्रेता दुकान लगा रहे हैं. ऐसे में अटल वेंडर मार्केट में बनी दुकानें इन दुकानदारों को सही तरीके से मिल पायेंगी, इस पर अभी तक प्रश्नचिह्न ही लगा हुआ है.

adv

इसे भी पढ़ें- ढाई साल में ही धंस गया 36 करोड़ का पुल, उद्घाटन भी नहीं हुआ था

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button