JamshedpurJharkhandLead News

चक्रधरपुर की तानिया और निशु ने किया नाम रोशन, बनीं सेकेंड टॉपर

Chakradharpur : जैक की और से मैट्रिक वह इंटर का रिजल्ट मंगलवार को जारी किया गया. चक्रधरपुर शहर के कार्मेल हाई स्कूल की दो छात्राएं तानिया साह और निशु कुमारी ने 500 में से 490 अंक के साथ 98 प्रतिशत लाकर झारखंड टॉपर बनने का बनने का गौरव हासिल किया है. दोनों छात्राओं ने चक्रधरपुर शहर और स्कूल का नाम रोशन किया है. विद्यालय की प्रधानाध्यापक सिस्टर जगरानी सहित अन्य शिक्षकों ने कहा कि दोनों छात्राएं मेधावी हैं और इनसे काफी उम्मीद थी. शहर की दोनों बेटियों की सफलता पर चक्रधरपुर गौरवांवित है.

पिता सतीश साह चाय-नाश्ता की दुकान चलाते हैं

तानिया साह के पिता सतीश साह पोटका इचिंडासाई में चाय-नाश्ता की दुकान चलाते हैं. जबकि माता नीलू देवी गृहणी हैं. सतीश साह की तीन बेटियां हैं, जिसमें तानिया साह सबसे बड़ी है. बेटी की इस सफलता से माता-पिता दोनों काफी खुश हैं.

Sanjeevani

पिता को उम्मीद थी कि बेटी उनकी एक दिन पढ़ाई में काफी नाम रोशन करेगी, भविष्य में आगे की पढ़ाई भी जारी रखने की बात कही. हालांकि पिता की आर्थिक स्थिति काफी कमजोर है. तानिया साह आगे की पढ़ाई केंद्रीय विद्यालय से करना चहती है.

इसे भी पढ़ें:दलगत आधार पर नहीं होंगे निकाय चुनाव, पार्षदों के बीच से ही चुने जायेंगे डिप्टी मेयर

दूध बेचनेवाले की बेटी बना टॉपर

निशु कुमारी के पिता दिनेश कुमार यादव दूध बेचते हैं. उनका अपना खटाल है. वे चक्रधरपुर शहर के रिटायर्ड कॉलोनी में रहते हैं. जबकि मां इंदु देवी गृहणी हैं. परिवार में पांच भाई बहन हैं, जिसमें निशु तीसरे नंबर पर है.

साइंस लेकर आगे की पढ़ाई करेगी तानिया साह

मैट्रिक बोर्ड में स्टेट टॉपर बनीं तानिया साह साइंस लेकर आगे की पढ़ाई करेगी. उन्होंने कहा कि पढ़ाई को समय पर पूरा करना ही उनका लक्ष्य है. ऑनलाइन पढ़ाई से ही उन्हें काफी फायदा हुआ.

तानिया साह को 500 में से 490 अंक मिले हैं. उन्होंने बताया कि अंग्रेजी में 95, हिन्दी में 98, गणित में 100, विज्ञान में 99, सामाजिक विज्ञान में 98 तथा आइपीएस में 88 अंक मिले हैं.

इसे भी पढ़ें:विनोबा भावे यूनिवर्सिटी के वीसी से हाइकोर्ट ने मांगा जवाब

हर प्रश्न को हल करना ही मेरा टारगेट था

मैट्रिक बोर्ड में स्टेट टॉपर बनीं निशु कुमारी ने कहा कि उनका एक ही टारगेट था- हर प्रश्न को हल करना. जिसमें वह सफल रहीं. मैट्रिक का रिजल्ट से उन्हें आगे बढ़ने के लिए एक प्रोत्साहन मिला है. उन्होंने कहा कि उनकी पढ़ाई में उनके माता पिता ने काफी हौसला बढ़ाया है. निशु आगे की पढ़ाई साइंस लेकर केंद्रीय विद्यालय से करेगी. लेकिन वह सोशल एक्टिविटी में रहना चाहती है. किसी एक चीज को लेकर आगे नहीं बढ़ेगी.

वह हर चीज को जानने का इच्छा रखती है. निशु को 500 में से 490 अंक मिले हैं. जिसमें हिन्दी में 98, अंग्रेजी में 97, गणित में 100, विज्ञान में 100, सामाजिक विज्ञान में 95 तथा आइपीएस में 84 अंक प्राप्त मिले हैं.

इसे भी पढ़ें:सरयू राय ने रघुवर दास के खिलाफ जांच के लिए ईडी को लिखा पत्र

कोरोना काल में भी मन लगा कर की पढ़ाई

झारखंड स्टेट टॉपर बनी तानिया साह और निशु कुमारी ने बताया कि कोविड-19 के कराण पढ़ाई बाधित हुई थी, लेकिन ऑनलाइन के माध्यम से काफी मदद मिली. स्कूल से नियमित शॉर्ट फॉर्म ऑनलाइन कक्षाएं होने के बाद वह लगातार पढ़ाई करती थी.

कोरोना काल में वह घर में रह कर पढ़ाई करने को अवसर के रूप में लिया और मन लगा कर पढ़ाई की. यही कारण है कि उन्हें सफलता हासिल हुई है जिसका श्रेय घरवालों के साथ-साथ विद्यालय के सभी शिक्षकों को जाता है.

इसे भी पढ़ें:मांडर उपचुनाव में सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे 4 हजार जवान, डीएसपी और इंस्पेक्टर करेंगे जोन की निगरानी

Related Articles

Back to top button